IAS Pari Bishnoi: दो बार असफल होने के बाद भी नहीं मानी हार, जानिए परी बिश्नोई की सफलता की कहानी

₹64.73
IAS Pari Bishnoi: दो बार असफल होने के बाद भी नहीं मानी हार, जानिए परी बिश्नोई की सफलता की कहानी

IAS Pari Bishnoi: आईएएस ऑफिसर परी बिश्नोई की कहानी काफी प्रेरणादाई है.

Pari Bishnoi's inspirational journey: A monk-like dedication to UPSC  success - Daijiworld.com
परी को बचपन से ही घर में पढ़ाई करने के लिए एक बेहतरीन माहौल मिला.
उन्होंने अजमेर के सेंट मैरी कॉन्वेंट स्कूल से पढ़ाई पूरी की.

Pari Bishnoi IAS - YouTube
परी ने 12वीं में ही ठान लिया था कि यूपीएससी सीएसई क्रैक करके वह एक आईएएस ऑफिसर बनेंगी.
इस तरह अपने गोल पर फोकस करते हुए परी डीयू से ग्रेजुएशन के बाद बगैर समय गवाएं यूपीएससी की तैयारी में जुट गईं.

Ias Pari Success Story Grandfather Was Sarpanch For Four Times And Mother  Was Police Officer In Grp - Amar Ujala Hindi News Live - Pari Bishnoi:थानेदार  की बेटी बनी Ias, बाबा चार
मास्टर्स के दौरान उन्होंने नेट जेआरएफ क्लियर कर लिया था.
अपने दो अटैम्प्ट में उन्हें सफलता नहीं मिली, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी.
लेकिन तीसरे अटेंप्ट में में परी ने कामयाबी हासिल कर ली. 30वीं रैंक के साथ यूपीएससी सीएसई टॉप किया.

Tags

Share this story