Weather Report: हरियाणा में धुंध का येलो अलर्ट जारी, अब अगले 2 महीने छाएगा कोहरा

₹64.73
Weather Report: हरियाणा में धुंध का येलो अलर्ट जारी, अब अगले 2 महीने छाएगा कोहरा

Weather Report: हरियाणा में अगले 60 दिनों तक धुंध छाए रहने की संभावना है। अमूमन दिसंबर-जनवरी महीने में धुंध अधिक रहती है। इस बार सूबे में ज्यादा बरसात हुई है तो धुंध का असर लंबे समय तक रह सकता है। इस दौरान सूबे में 35 प्रतिशत तक रोड एक्सीडेंट बढ़ने की संभावना रहती है। 

ऐसे में हरियाणा पुलिस ने ट्रैफिक एडवाइजरी जारी कर सावधानी बरतने को कहा है।  साथ ही चंडीगढ़ मौसम विभाग ने भी कहा है कि अगले दो से तीन दिनों में धुंध का प्रभाव और बढ़ सकता है। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि इस बार जमीन में नमी बनी हुई है, इससे भी धुंध लंबी चलने की संभावना है।

हरियाणा में धुंध बढ़ने के साथ ही सड़क हादसों की संख्या भी बढ़ जाती है। एक अनुमान के मुताबिक राज्य में हाईवे पर ट्रक-टेंपो और ट्रैक्टर से सबसे अधिक लगभग 35% दुर्घटनाएं होती हैं। सबसे चिंताजनक बात यह है कि हादसों में 37% लोगों की मौत हो जाती है। 

कार-जीप व टैक्सी से 31% सड़क दुर्घटनाएं होती हैं, इनमें 35% डेथ होती है। इसके अलावा दो पहिया वाहन से 16% हादसे व 11.80% डेथ, ऑटो रिक्शा से 5.25% हादसे व 3.90% डेथ होती हैं। हरियाणा में नेशनल हाईवे पर सबसे अधिक 31.78 फीसदी हादसे होते हैं, जबकि स्टेट हाईवे पर 25.69, एक्सप्रेस हाईवे पर 2.19 फीसदी हादसे होते हैं। अन्य सड़कों पर 40.34 फीसदी हादसे होते हैं। 

सुबह 6 से 12 बजे तक 24.77 प्रतिशत, दोपहर 12 से शाम छह बजे तक 29.82 प्रतिशत, शाम छह से रात 12 बजे तक 29.50 व रात 12 से सुबह 6 बजे तक 15.08 फीसदी हादसे ज्यादा होते हैं। वाहन चालकों को लेन बदलने या क्रॉस करने से बचना चाहिए। विजिबिलिटी बेहद खराब होने की स्थिति में चालक सड़क पर पेंट की गई लाइन को गाइड के रूप में उपयोग करते हुए वाहन चलाएं। 

वाहनों की गति सीमा नियंत्रित रखने व मोबाइल और म्यूजिक सिस्टम का उपयोग करने से बचें। साथ ही, घना कोहरा होने पर सुरक्षित स्थान पर वाहन को रोककर धुंध कम होने का इंतजार करें। वाहनों को मुख्य सड़क पर पार्क नहीं करना चाहिए।

खुद गाड़ी चला रहे हैं तो ये जरूर करें
1- बाहर की आवाज सुनने के लिए वाहन के शीशे थोड़ा नीचे रखें।
2- वाहनों की गति तय स्पीड से कम रखें।
3- सड़क पर वाहनों के बीच उचित दूरी के रखें।
4- फॉग लाइट्स व इंडिकेटर्स को लगातार ऑन रखना चाहिए।

Tags

Share this story