Haryana News: हरियाणा पुलिस को मिली कामयाबी, साइबर फ्रॉड की 71 लाख रुपये की राशि मूल खाता धारक को मिली वापस

₹64.73
Haryana News: हरियाणा पुलिस को मिली कामयाबी, साइबर फ्रॉड की 71 लाख रुपये की राशि मूल खाता धारक को मिली वापस
Haryana News: साइबर सुरक्षा तंत्र को सुदृढ़ करने हेतु हरियाणा पुलिस द्वारा निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं ताकि लोगों को अपनी जमा पूंजी को साइबर फ्रॉड में ना गंवाना पड़े। हरियाणा पुलिस द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से रोजाना साइबर अपराधियों द्वारा फ्रॉड करने के लिए अपनाए जाने वाले तरीकों के बारे में जागरूक किया जा रहा है ताकि लोग साइबर फ्रॉड का शिकार ना हो। इसके लिए पुलिस महानिदेशक श्री शत्रुजीत कपूर के नेतृत्व में योजनाबद्ध तरीके से कार्य किया जा रहा है परिणामस्वरूप अब साइबर फ्रॉड रोकने संबंधी किए गए कार्यों के उत्कृष्ट परिणाम सामने आने लगे हैं।

इसका हाल ही में एक उदाहरण देखने को मिला जब साइबर फ्रॉड का शिकार हुए एक व्यक्ति के बैंक अकाउंट की 71 लाख  रुपये की राशि को वापस करवाया गया। इस मामले में पीड़ित व्यक्ति ने हरियाणा पुलिस का कोटि-कोटि आभार जताया है।

क्या था मामला-

यह मामला गुरुग्राम से संबंधित है। दिनांक 16 फरवरी 2024 को गुरुग्राम के एक व्यक्ति ने थाना साइबर अपराध पूर्व में एक लिखित शिकायत दी जिसमें शिकायतकर्ता ने बताया कि कुछ व्यक्तियों द्वारा अच्छे रिटर्न का प्रलोभन देकर एक ऐप के माध्यम से स्टॉक मार्केट में इंवेस्ट करने के लिए कहा गया जिसके झांसे में आकर वह साइबर ठगी का शिकार हो गया। इस शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ थाना साइबर अपराध पूर्व गुरुग्राम में संबंधित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया। इस मामले में सहायक पुलिस आयुक्त साइबर अपराध प्रियांशु दिवान के निर्देशानुसार साइबर अपराध पूर्व थाना में तैनात निरीक्षक सवित कुमार की टीम ने कार्यवाही करते हुए 3 आरोपियों को 22 मार्च 2024 को जयपुर से पकड़ने में सफलता हासिल की। आरोपियों की पहचान ’मकवाना हर्षद रमेश भाई निवासी काडिया प्लॉट पोरबंदर (गुजरात), निकुंज मनसुख भाई चौहान निवासी राजीव नगर पोरबंदर, (गुजरात) व खान जुबेर जमशेद निवासी इस्लामपुरा शाहपुर नगर, वलसाड (गुजरात)’ के रूप में हुई। इस मामले में पुलिस टीम द्वारा उपरोक्त अभियोग में कार्यवाही करते हुए शिकायतकर्ता से ठगी गई लगभग 71 लाख रुपए की राशि को शिकायतकर्ता को वापस लौटाया गया है। अभियोग का अनुसंधान जारी है।

        शिकायतकर्ता ने साइबर अपराध थाना पूर्व गुरुग्राम की टीम द्वारा की गई कार्रवाई की सराहना की और कहा कि हरियाणा पुलिस ने पूरी मेहनत, ईमानदारी तथा लगन के साथ प्रभावी कार्रवाई की है जिसके चलते साइबर ठगों के चंगुल से 71 लाख रुपए की राशि उन्हें त्वरित वापस मिली है।

साइबर अपराधियों द्वारा अपनाए जाने वाले तरीकों के बारे में जानने के लिए फॉलों करें हरियाणा पुलिस का सोशल मीडिया हैंडल

हरियाणा पुलिस आमजन से यह अपील करती है कि वे सतर्क रहें क्योंकि साइबर अपराधियों द्वारा रोजाना नए-नए तरीके अपनाते हुए लोगों को साइबर फ्रॉड का शिकार बनाया जा रहा है, इसलिए लोग किसी अनजान व्यक्ति के कहने पर किसी प्रकार के लिंक पर क्लिक ना करें, ना ही कोई मोबाइल ऐप डाउनलोड करें। इसके अलावा, किसी व्यक्ति से अपने बैंक खाता संबंधी निजी जानकारी अथवा ओटीपी भी शेयर ना करें। साइबर अपराधियों द्वारा अपनाए जाने वाले अलग-2 तरीकों के बारे में लोगों को हरियाणा पुलिस के सोशल मीडिया हैंडलस द्वारा वीडियो आदि के माध्यम से निरंतर जानकारी दी जा रही है ताकि लोग साइबर अपराधियों के झांसे में ना आएं और सतर्क रहें। अतः लोगों से निवेदन है कि वह हरियाणा पुलिस के सोशल मीडिया हैंडल को जरूर फॉलो करें ताकि उन्हें निरंतर जानकारी मिलती रहे।

Tags

Share this story