Haryana News: हरियाणा में देश की अनूठी पहल की साक्षी बनी फरीदाबाद की धरती, मतदान के संकल्प के लिए एक साथ उठे साढ़े 8 लाख हाथ

₹64.73
Haryana News: हरियाणा में देश की अनूठी पहल की साक्षी बनी फरीदाबाद की धरती, मतदान के संकल्प के लिए एक साथ उठे साढ़े 8 लाख हाथ

Haryana News: लोकतंत्र के महापर्व से पहले फरीदाबाद की धरती सोमवार को एक अनूठी पहल की साक्षी बनी। मौका था 25 मई को होने वाले लोकसभा चुनावों के लिए शत प्रतिशत मतदान के संकल्प का। जिला निर्वाचन अधिकारी विक्रम सिंह द्वारा की गई इस पहल में साढ़े आठ लाख लोग जुड़े। सभी ने एक साथ प्रातः 11 बजे अपने-अपने प्रतिष्ठानों, स्कूलों, कॉलेजों, उद्योगों, कार्यालयों, आंगनवाड़ी केंद्रों, पंचायत घरों और सार्वजनिक स्थानों पर इकट्ठा होकर शत-प्रतिशत मतदान का संकल्प लिया। 18 वर्ष से ऊपर के नागरिकों ने जहां मतदान का संकल्प लिया तो स्कूली बच्चों ने अपने परिजनों व आस-पास के लोगों को मतदान के लिए प्रेरित करने की प्रतिबद्धता दोहराई।
जिला निर्वाचन अधिकारी व उपायुक्त विक्रम सिंह ने बताया कि जागरूकता अभियान के तहत जिला में सबसे ज्यादा औद्योगिक श्रमिक व कर्मचारी शामिल हुए। उन्होंने बताया कि सोमवार को अभियान में पांच लाख औद्योगिक श्रमिकों ने एक साथ इकट्ठा होकर 25 मई को मतदान करने की शपथ ली। इसके बाद जिला के तीन लाख  से ज्यादा सरकारी व प्राइवेट स्कूलों के बच्चे इस अभियान में शामिल हुए। इनमें एक लाख से ज्यादा सरकारी स्कूलों के व डेढ़ लाख प्राइवेट स्कूलों के बच्चे शामिल थे। वहीं 33 हजार ऑटो चालक इस अभियान से जुड़े और सभी ने शत-प्रतिशत मतदान का संकल्प लिया। 19 हजार से ज्यादा स्वयं सहायता समूहों की महिलाएं, विभिन्न विभागों व पुलिस विभाग के 20 हजार से ज्यादा कर्मचारी, 1200 आंगनवाड़ी वर्कर और 1200 आशा वर्कर व एएनएम इस अभियान में शामिल हुई। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि जिला में प्रात: 11 बजे चला यह अभियान वास्तव में अनूठा रहा और प्रत्येक व्यक्ति ने इस अभियान से जुडक़र शत-प्रतिशत मतदान का संकल्प लिया।
2019 के लोकसभा चुनावों में हुआ था मात्र 62 प्रतिशत मतदान, शहरों में 57 प्रतिशत ही रहा था मतदान
जिला निर्वाचन अधिकारी विक्रम सिंह ने सेक्टर-55 राजकीय मॉडल संस्कृति सीनियर सेकेंडरी स्कूल में आयोजित मुख्य कार्यक्रम में संबोधित करते हुए कहा कि पिछले लोकसभा चुनावों में फरीदाबाद लोकसभा क्षेत्र में मात्र 62 प्रतिशत लोगों ने मतदान किया था। वहीं शहरों में तो यह संख्या 57 प्रतिशत ही रह गई थी। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि चुनाव लोकतंत्र का सबसे बड़ा महापर्व होता है और यह प्रत्येक नागरिक का सबसे बड़ा अधिकार है। ऐसे में लोगों को आने वाले लोकसभा चुनावों में ज्यादा से ज्यादा मतदान के लिए जागरूक करना जरूरी है। इसी के तहत यह पहल की गई और जिला में बड़े स्तर पर जागरूकता अभियान चलाने का निर्णय लिया गया। उन्होंने कहा कि शुरूआत में कुछ स्थानों पर यह अभियान चलाने का विचार था लेकिन धीरे-धीरे विभिन्न उद्योगों, स्कूलों, कालेजों, आटो चालकों, महिला समूहों व अन्य वर्गों को जोड़ने का कार्य किया गया। इसका परिणाम यह हुआ कि अभियान में साढ़े आठ लाख लोग शामिल हुए।
बच्चों ने ली परिजनों को मतदान केंद्र जाकर मतदान करने के लिए प्रेरित करने की शपथ
जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त विक्रम सिंह ने बताया कि शपथ अभियान में सबसे खास बात रही बच्चों का इस अभियान से जुड़ाव। उन्होंने बताया कि जिला में सवा लाख बच्चे राजकीय स्कूलों में और तीन लाख 83 हजार बच्चे प्राइवेट स्कूलों में पढ़ते हैं। उन्होंने बताया कि अभियान में तीन लाख से ज्यादा बच्चे शामिल हुए। स्कूलों में यह कार्यक्रम एक उत्सव की तरह आयोजित किया गया। सभी स्कूलों में बच्चों ने मतदान के लिए प्रेरित करती पेंटिंग तैयार की और उनकी प्रदर्शनी भी लगाई। सभी बच्चों ने संकल्प लिया कि वह अपने परिजनों को मतदान केंद्र तक जरूर लेकर जाएंगे।
श्रमिकों ने भी राष्ट्र हित में वोट देने का संकल्प दोहराया
औद्योगिक शहर फरीदाबाद में मतदान शत-प्रतिशत करने के संकल्प कार्यक्रम में सबसे बड़ी हिस्सेदारी रही औद्योगिक श्रमिकों की। जिला में नौ लाख औद्योगिक श्रमिक हैं। अलग-अलग शिफ्ट में काम करने वाले इन श्रमिकों में से पांच लाख श्रमिक इस अभियान में शामिल हुए। सभी ने राष्ट्र हित में 25 मई को वोट देने का संकल्प लेते हुए अपने कार्यस्थल पर ही खड़े होकर मतदान का संकल्प लिया।
महिलाएं भी नहीं रही पीछे, स्वयं सहायता समूहों, आशा व आंगनबाड़ी से जुड़ी महिलाओं ने लिया मतदान का संकल्प
उपायुक्त विक्रम सिंह ने बताया कि मतदान के संकल्प के लिए महिलाएं भी पीछे नहीं रही। गांवों हो या शहर हर जगह शत प्रतिशत मतदान के संकल्प में महिलाएं बड़ी संख्या में भागीदारी करती दिखी। उन्होंने बताया कि अभियान में 19 हजार से ज्यादा स्वयं सहायता समूहों की महिलाएं शामिल हुई और 1200 से ज्यादा आंगनबाड़ी व 1200 से ज्यादा ही आशा वर्कर भी अभियान में शामिल हुई। शत प्रतिशत मतदान के संकल्प के लिए जिला प्रशासन के सभी अधिकारी भी लोगों को प्रेरित करने के लिए अलग-अलग स्थानों पर पहुंचे।

 

Tags

Share this story