Haryana News: हरियाणा के प्रमुख समाजसेवी सरदार हरपाल सिंह को हरियाणा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के पंजाबी विभाग के निदेशक नियुक्त

₹64.73
Haryana News: हरियाणा के प्रमुख समाजसेवी सरदार हरपाल सिंह को हरियाणा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के पंजाबी विभाग के निदेशक नियुक्त 
Haryana News: हरियाणा के ग़ुहला चीका के प्रमुख समाजसेवी और शुगर फेड हरियाणा के पूर्व चेयरमैन सरदार हरपाल सिंह को हरियाणा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के पंजाबी विभाग का निदेशक नियुक्त किए जाने पर इलाके भर के लोगों ने भारी खुशी का इजहार किया है। पिछले 4 दशकों से प्रदेश की सिख राजनीति में अपना अहम स्थान कायम करने वाले हरपाल सिंह ने अपने सामाजिक जीवन की शुरुआत गूहला चीका से की थी। 

गुरुद्वारा साहब पाठशाही छठी व नौवीं चीका का लगातार 28 वर्षों तक प्रबंध संभालते हुए सरदार हरपाल सिंह ने हिंदू मुस्लिम सिख इसाई सहित तमाम वर्गों को गुरुद्वारा साहिब से जोड़कर प्रदेश भर में भाईचारे एवं एकता की एक अलग मिसाल जोड़ी थी। सरदार हरपाल सिंह का नाम आबादकार पट्टेदारों की लड़ाई लड़ने वाले नेताओं में पहली पंक्ति में गिना जाता है। पाकिस्तान से आए परिवारों को उनके द्वारा कई सालों तक मेहनत मजदूरी करके आबाद की गई जमीनों के मालिकाना हक दिलाने की लड़ाई को सरदार हरपाल सिंह ने जमीन से लेकर सरकार तक अगली पंक्ति में रहकर लड़ा। 
पंचायत की तर्ज पर लोकसभा एवं विधानसभा चुनाव में भी आरक्षण के लिए रोटेशन व्यवस्था करने की मांग को लेकर लड़े गए आंदोलन की भी हरपाल सिंह ने 2007 से लेकर आज तक अगुवाई कर रहे हैं। यह मामला सुप्रीम कोर्ट में है और इसका फैसला आते ही देशभर की राजनीति में एक नई इबारत लिखी जा सकती है।
वरिष्ठ सिख नेता मेजर सिंह ग़ुहला, सरदार टहल सिंह, गुरुद्वारा साहिब शहीदी मार्ग चीका के प्रधान बलविंदर सिंह, दलीप सिंह मठाडू ने सरदार हरपाल सिंह की ताजपोशी के लिए प्रदेश सरकार का आभार व्यक्त किया है तथा भारी खुशी का इजहार किया है।
 सरदार मेजर सिंह ने कहा कि हरपाल सिंह के साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के पंजाबी विभाग का निदेशक बनने से प्रदेश में पंजाबी भाषा समृद्ध होगी और पंजाबी साहित्य अनुकूल माहौल पाकर नई और ऊंची उड़ान भरेगा। हरपाल सिंह अगले हफ्ते अपना पद संभालेंगे।

Tags

Share this story