Haryana News: रेवाड़ी के पत्रकारों को मिली दस-दस लाख की इंश्योरेंस पॉलिसी, मीडिया वेलबींग एसोसिएशन की जिला कार्यकारिणी का किया गया गठन

₹64.73
cs
 
Haryana News: जिला रेवाड़ी के पत्रकारों को नया साल का तोहफा मिला है। मीडिया वेलबींग एसोसिएशन, जिला रेवाड़ी की बैठक बावल रोड़ स्थित कार्यालय में हुई बैठक में रेवाड़ी के पत्रकारों को एसोसिएशन की ओर से दस-दस लाख की इंश्योरेंस पॉलिसी वितरित की गई। बैठक में जिला कार्यकारिणी का भी गठन किया गया।
एसोसिएशन के जिला प्रधान नरेंद्र वत्स की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में सर्वप्रथम संगठन के प्रदेशाध्यक्ष चंद्रशेखर धरणी के नेतृत्व में गत दिनों फरीदाबाद में आयोजित प्रदेश स्तरीय संगठन में लिए गए निर्णयों की सभी को विस्तृत जानकारी दी गई। बैठक में संगठन प्रदेशाध्यक्ष की सहमति एवं सर्वसम्मति से जिला कार्यकारिणी का भी गठन किया गया। जिसमे वरिष्ठ कलमकार प्रदीप नारायण को सलाहकार, विकास कुमार को सचिव, दिनेश चौहान को सहसचिव, वरिष्ठ पत्रकार अमित सैनी व गंगाबिशन को उपप्रधान तथा धर्मेंद्र सोहलोत को कोषाध्यक्ष मनोनित किया गया। सभी नवनियुक्त पदाधिकारियों ने कहा कि वे जिले में संगठन को मजबूती प्रदान करने के साथ-साथ पत्रकारों के हितों के लिए पूरी प्रतिबद्धता के कार्य करेंगे।
बैठक में पत्रकार प्रदीप नारायण, नरेंद्र वत्स, विकास कुमार, गंगा बिशन, हेमंत वशिष्ठ, धर्मेंद्र सोहलोत तथा सुभाष जाट आदि को दस-दस लाख रुपये की इंश्योरेंस पॉलिसी वितरित की गई। जिला प्रधान नरेंद्र वत्स ने कहा कि मीडिया वेलबींग एसोसिएशन एकमात्र ऐसा संगठन है, जो बिना कोई शुल्क व भुगतान लिए प्रदेशभर के पत्रकारों को दस-दस लाख रुपये की पॉलिसी उपलब्ध करा रहा है। उन्होंने बताया कि एसोसिएशन के सभी पदाधिकारियों तथा सदस्यों के आईकार्ड भी जल्द ही जारी कर दिए जाएंगे।
संगठन की भावी योजनाओं की जानकारी देते हुए जिला प्रधान ने बताया कि मीडिया वेलबींग एसोसिएशन कलमकारों के हितों की रक्षा करते हुए आवश्यकता पडऩे पर हर स्थिति में पत्रकारों व उनके परिजनों के साथ खड़ी रहेगी। आवश्यकता पडऩे पर यथासंभव आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने में भी संगठन पीछे नहीं हटेगा। उन्होंने यह भी बताया कि संगठन आने वाले समय में होली मिलन समारोह के साथ-साथ जिले में भव्य जिला स्तरीय समारोह भी आयोजित करेगा। इस मौके पर पवन कुमार, धनेश विद्यार्थी सहित अनेक पत्रकार मौजूद रहे।

Tags

Share this story