Haryana News: हरियाणा में नशा मुक्ति को लेकर हैकाथॉन का फाइनल राउंड का 4 फरवरी को होगा आयोजन

₹64.73
df
 

Haryana News: हरियाणा पुलिस तथा हरियाणा राज्य नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के संयुक्त तत्वावधान में 4 फरवरी को हैकाथॉन का फाइनल राउंड आयोजित किया जाएगा, जिसमें देशभर की टॉप 10 टीमें भाग लेंगी। ये टीमें नशामुक्ति को लेकर प्रोटोटाइप्स/सोल्युशन्स प्रस्तुत करेंगी। टीमों को अपनी प्रस्तुत करने के लिए 20 मिनट का समय दिया जाएगा।

इस प्रतियोगिता के फाइनल राउंड के परिणाम घोषित करने के लिए विशेषज्ञों का पैनल तैयार किया गया है, जो निर्धारित मापदंडों की पालना करते हुए उत्कृष्ट टीमों का चयन करेगा। प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली टीमों के इनोवेटिव आईडियाज को भविष्य में हरियाणा पुलिस द्वारा उपयोग में लाते हुए लोगों को नशा मुक्ति के लिए जागरूक किया जाएगा।

 हरियाणा के पुलिस महानिदेशक श्री शत्रुजीत कपूर ने बताया कि युवाओं को नशे से बचाने और उन्हें नशे के दुष्प्रभावों से अवगत करवाने को लेकर हरियाणा पुलिस तथा हरियाणा राज्य नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो द्वारा संयुक्त रूप से डिजीटल प्लेटफार्म के माध्यम से हैकाथॉन का आयोजन किया जा रहा है। 3 दिसंबर 2023 से शुरू हुए हैकाथॉन में देश भर के कॉलेजों, विश्वविद्यालयों तथा अन्य संस्थानों से 3100 प्रतिभागियों ने भाग लेते हुए नशा मुक्ति को लेकर प्रोटोटाइप्स/सोल्युशन्स तैयार किए हैं। इनमें से टॉप 10 टीमों को चयनित करते हुए उनका फाइनल राउंड के लिए चयन किया गया है।

पंचकूला के पुलिस आयुक्त सिबाश कबिराज ने बताया कि वर्तमान समय में डिजिटल मीडिया लोगों तक अपनी बात पहुंचाने का सशक्त माध्यम है। लोगों तक नशामुक्ति का संदेश पहुंचाने के लिए पारंपरिक तौर-तरीकों के साथ साथ डिजीटल प्लेटफॉर्म का भी इस्तेमाल किया जाना अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने बताया कि युवाओं के जीवन में कई तरह के उतार-चढ़ाव आते हैं, जिससे वे कई बार अपने रास्ते से भटक कर नशे जैसे गलत रास्ते पर चल पड़ते हैं। हैकाथॉन के माध्यम से युवाओं को गलत रास्ते पर जाने से रोकने के लिए इनोवेटिव सॉल्यूशन्स तलाशने की पहल की गई है, ताकि वे मानसिक रूप से मजबूत बनें और विपरित परिस्थिति आने पर अपने विवेक का इस्तेमाल करते हुए खुद को इन रास्तों पर जाने से रोके। ये सोल्युशन्स ई-स्पोर्ट्स, गेमिंग आदि कुछ भी हो सकते हैं।

उन्होंने बताया कि हैकाथॉन के आयोजन में ‘हैक2स्किल्स‘ नामक संस्था द्वारा विशेष रूप से सहयोग दिया गया है। उन्होंने बताया कि हैकाथॉन के माध्यम से ऐसे इनोवेटिव आइडियाज को एक मंच प्रदान करने का प्रयास किया गया है ताकि लोगों तक नशामुक्ति का संदेश पहले की अपेक्षा और अधिक प्रभावी ढंग से पहुंचाया जा सके। हैकाथोन में युवाओं द्वारा ऐसे गैर तकनीकी तथा तकनीक आधारित जैसे ऑनलाइन खेल तथा मेटावर्स साफ्टवेयर और प्रोटाटाइप सोल्युशन्स आदि दिए गए हैं, जिसका उपयोग करके लोगों को इस मुहिम से ज्यादा से ज्यादा संख्या में जोड़ा जा सकता है, ताकि वे खुद भी नशे से दूर रहें और जो लोग इसके आदी हो चुके हैं उन्हें भी इससे दूरी बनाए रखने के लिए प्रेरित करें।

Tags

Share this story