Haryana News: हरियाणा में अब तक 2888 शिकायतें हो चुकी हैं प्राप्त, सी-विजिल बन रही चुनाव आयोग की तीसरी आँख

₹64.73
Haryana News: हरियाणा में अब तक 2888 शिकायतें हो चुकी हैं प्राप्त, सी-विजिल बन रही चुनाव आयोग की तीसरी आँख
Haryana News: हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री अनुराग अग्रवाल ने कहा कि राज्य में लोकसभा आम चुनाव और विधानसभा उपचुनाव को निष्पक्ष, स्वतंत्र और पारदर्शी तरीके से संपन्न करवाने के लिए पूरी तैयारियां कर ली गई हैं। चुनाव के दौरान लागू आदर्श आचार संहित का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित किया जा रहा है। आयोग द्वारा विकसित सी-विजिल मोबाइल एप भी चुनावों के दौरान आयोग के लिए तीसरी आँख का काम कर रही है। सी-विजिल के माध्यम से राज्य में अब तक 2888 शिकायतें प्राप्त हो चुकी हैं।

        श्री अग्रवाल ने कहा कि नागरिकों द्वारा पैनी नजर रखी जा रही है। ज्यों ही उन्हें आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की जानकारी मिलती है, त्यों ही वे चुनाव आयोग को अपनी शिकायतें भेजते हैं। इन शिकायतों का 100 मिनट के अंदर समाधान किया जाता है। आमजन “सी-विजिल” मोबाइल एप के माध्यम से सिस्टम में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर रहे हैं, यह गौरव की बात है।

        उन्होंने जिलावार विवरण देते हुए बताया कि सर्वाधित शिकायतें 517 जिला सिरसा से प्राप्त हुई हैं। इसके लिए अलावा, जिला अंबाला से 481, भिवानी से 75, फरीदाबाद से 449, फतेहाबाद से 103, गुड़गांव से 230, हिसार से 172, झज्जर से 34, जींद से 54, कैथल से 67, करनाल से 23, कुरुक्षेत्र से 61, महेंद्रगढ़ से 10, मेवात से 46, पलवल से 74, पंचकूला से 123, पानीपत से 16, रेवाड़ी से 31, रोहतक से 110, सोनीपत से 140 तथा यमुनानगर से 72 शिकायतें प्राप्त हुई हैं। कुल शिकायतों में से 2494 शिकायतों को रिटर्निंग अधिकारियों व सहायक रिटर्निंग अधिकारियों द्वारा सही पाया गया और इन पर नियमानुसार कार्रवाई की गई।

        उन्होंने नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि चुनावों को निष्पक्ष, स्वच्छ और पारदर्शी बनाने में नागरिक अपना सहयोग करें। इस सी-विजिल एप को गूगल प्ले स्टोर से एंड्राइड फोन तथा एप स्टोर से आई फोन पर डाउनलोड कर सकते हैं। आमजन फोटो खींच सकते हैं या दो मिनट की वीडियो भी रिकॉर्ड करके इस एप पर अपलोड कर सकते हैं। वह फोटो और वीडियो जीपीएस लोकेशन के साथ एप पर अपलोड हो जाएगी। शिकायत दर्ज करने के 100 मिनटों में शिकायत का समाधान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि फलाइंग स्क्वाड, स्टेटिक सर्विलेंस टीमों की लाइव जानकारी रहती है और सी-विजिल एप पर जिस स्थान से शिकायत प्राप्त होती है तो निकट टीमें तुरंत वहां पहुंचेंगी।

Tags

Share this story