मध्य प्रदेश के सरकारी मेडिकल कॉलेज में बढ़ी 165 सीटें, इंदौर में 70; इस साल MGM कॉलेज में 250 सीटों पर होंगे एडमिशन!

मध्य प्रदेश के सरकारी मेडिकल कॉलेज में बढ़ी 165 सीटें, इंदौर में 70; इस साल MGM कॉलेज में 250 सीटों पर होंगे एडमिशन!इंदौर(ब्यूरो): इंदौर के एमजीएम कॉलेज के साथ ही भोपाल के गांधी मेडिकल कॉलेज (GMC) में एमबीबीएस की 70-70 सीटों का इजाफा किया गया है, जबकि रीवा मेडिकल कॉलेज में 25 सीटें बढ़ाई गई हैं। ऐसे में प्रदेश में कुल 165 सीटों का इजाफा हुआ है। बढ़ी हुई सीटों

पहले अस्‍मत लूटी ,फिर दी बदनाम करने की धमकी, पीड़िता ने निगला जहर, मौत!

पहले अस्‍मत लूटी ,फिर दी बदनाम करने की धमकी, पीड़िता ने निगला जहर, मौत! हिसार, (ब्यूरो): । हिसार में एक और बेटी मनचलों की भेंट चढ़ गई। ।पहले युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया उसके बाद उसका आपत्तिजनक वीडियो बना कर उसको वायरल करने की धमकी दी ये सदमा पीडि़ता से सहन नहीं हुआ और उसने अपनी जीवन समाप्‍त कर दिया । हिसार जिला निवासी एक किशोरी से दो युवकों

केंद्रीय कर्मचारियों के लीव और एलटीसी के नियमों में हुआ बदलाव!

केंद्रीय कर्मचारियों के लीव और एलटीसी के नियमों में हुआ बदलाव! नई दिल्ली(ब्यूरो):कर्मचारी लीव एनकैशमेंट के बिना ही यह अब संभव हो सकेगा। इससे कर्मचारियों को लाभ होगा। केंद्र सरकार के कर्मचारी एलटीसी वाउचर योजना का लाभ लेने के लिए कई बिल दे सकते हैं। यदि किसी कर्मचारी के परिवार के चार सदस्य LTC एलटीसी के लिए पात्र हैं, तो कर्मचारी पात्र परिवार के एलटीसी हिस्से के बराबर आंशिक लाभ

ज्यादा तनाव से ब्रेन स्ट्रोक का खतरा

ज्यादा तनाव से ब्रेन स्ट्रोक का खतरा (ब्यूरो):आज-कल हर कोई किसी ना किसी तरह से मानसिक तनाव से गुजर रहा है। कोरोना काल में यह समस्या और ज्यादा बढ़ी है। महामारी के कारण किसी की नौकरी छूट गई है, तो किसी का व्यापार बंद हो गया है। ऐसे में स्ट्रोक ब्रेन अटैक (दिमाग में आघात) होने का जोखिम और अधिक होता है। विश्व स्ट्रोक संगठन के अनुसार लोगों को स्ट्रोक

शनिवार को दिखेगा 'ब्लू मून'!

शनिवार को दिखेगा ‘ब्लू मून’! (ब्यूरो)।: इस सप्ताह ब्लू मून दिखेगा। दरअसल, अक्टूबर माह के अंतिम शनिवार को दुर्लभ चांद देखने को मिलेगा। सामान्य तौर पर हर माह एक बार पूर्णिमा और एक बार अमावस्या होती है लेकिन इस बार एक ही माह में दो बार आसमान में पूरा चांद खिल रहा है। इस तरह की घटना में महीने के दूसरे पूर्णिमा के चांद को ‘ब्लू मून’ कहते हैं। दिल्ली

हड़ताल पर रहे मजदूर, 16वें दिन में पहुंचा धरना!

हड़ताल पर रहे मजदूर, 16वें दिन में पहुंचा धरना! कालांवाली (ब्यूरो)।: केंद्र सरकार द्वारा लागू किए तीन कृषि कानून के विरोध में मजदूरों का प्रदर्शन सोमवार को 16वें दिन भी जारी रहा। सोमवार को मजदूरों ने अनाज मंडी में पूर्ण रूप से कार्य बंद कर हड़ताल पर रहे। मजदूरों ने अनाज मंडी में रोष मार्च निकाला उसके बाद शाम तक शेड के नीचे धरना प्रदर्शन कर रोष व्यक्त किया। मजदूरों

ठंड के मौसम में हृदय रोग के लिए यह सावधानियां बेहद जरूरी !

ठंड के मौसम में हृदय रोग के लिए यह सावधानियां बेहद जरूरी!ब्यूरो-: ठंड का मौसम वैसे तो स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है, लेकिन हर मौसम की अपनी जटिलता भी होती है। इस मौसम में शरीर की देखभाल करना भी जरूरी है। ठंड में कई पुरानी बीमारियां उभर कर सामने आती हैं। इसके साथ ही हृदय रोग के मरीजों के लिए इस मौसम में अपनी सेहत का विशेष खयाल रखना

सैन्य कैंटीनों में बेची जाने वाली चीनी वस्तुओं, शराब पर प्रतिबंध लगाए जाने की संभावना !

सैन्य कैंटीनों में बेची जाने वाली चीनी वस्तुओं, शराब पर प्रतिबंध लगाए जाने की संभावना ! नई दिल्ली (ब्यूरो): रक्षा मंत्रालय अपने कैंटीन स्टोर्स डिपार्टमेंट में चीन से आयातित वस्तुओं की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने की दिशा में काम कर रहा है, जो कि आत्मानिभर भारत योजना के तहत स्थानीय सामानों को बढ़ावा देने के प्रयासों के तहत है। रक्षा सूत्रों ने कहा, “कई आयातित वस्तुओं को कैंटीन स्टोर्स डिपार्टमेंट

टोल टैक्स मांगने पर कार सवार युवकों ने चलाई गोली, फरार!

टोल टैक्स मांगने पर कार सवार युवकों ने चलाई गोली, फरार!सिरसा (ब्यूरो)-: डबवाली क्षेत्र में गांव खुइयां मलकाना के पास स्थित टोल नाके पर कार सवार युवकों ने टोल न देने को लेकर हंगामा किया। बाद में पिस्तौल से गोली भी चलाई। मौके पर टोल कर्मचारियों के एकत्रित हो जाने के बाद युवक वापस सिरसा की ओर भाग गए। टोल प्रबंधक की शिकायत पर सदर थाना डबवाली पुलिस ने मामला

बीमार मां को अस्पताल में भर्ती करने से एक दिन पहले बेटी ने लगाई फांसी!

बीमार मां को अस्पताल में भर्ती करने से एक दिन पहले बेटी ने लगाई फांसी!भोपाल (ब्यूरो)-: भोपाल में 22 साल की लड़की ने बीमार मां को अस्पताल में भर्ती करने से एक दिन पहले फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। मां को टीबी होने के बाद से वह परेशान थी। लड़की अपनी मां और भाइयों के साथ पिता के अलग होने के बाद से मामा के यहां रह रही थी। इंद्रा