मैंने तो पार्टी में नहीं छोड़ी, बल्कि निकाला गया,अगर मुख्यमंत्री बनाना था तो पार्टी से निकाले क्यों : दुष्यंत

मैंने तो पार्टी में नहीं छोड़ी, बल्कि निकाला गया,अगर मुख्यमंत्री बनाना था तो पार्टी से निकाले क्यों : दुष्यंत

जनवरी 05(संदीप सैनी) प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि चाहे युवाओं के लिए शिक्षा की बात हो या फिर रोजगार मुहैया करवाने की बात हो, प्रदेश सराकर द्वारा कारगर कदम उठाए जा रहे हैं। आने वाले बजट सत्र से पहले प्राईवेट सेक्टर में प्रदेश के युवाओं को 75 प्रतिशत के आरक्षण की व्यवस्था कर दी जाएगी। इस बारे में औद्योगिक इकाईयों के प्रतिनिधियों से भी बातचीत हो रही और उनकी भी समस्याओं का समाधान किया जा रहा है।

श्री चौटाला शनिवार को जिला बार एसोसिएशन द्वारा उनके सम्मान में आयोजित सम्मान समारोह के दौरान पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। दादा ओपी चौटाला के उस बयान पर दुष्यंत ने टिप्पणी की, ​जिसमें शुक्रवार को एक कार्क्रम में ओपी चौटाला ने कहा था कि यदि दुष्यंत पार्टी में होता तो मैं उसे ही मुख्यमंत्री बनाता, इस पर दुष्यंत चौटाला ने कहा कि यदि सीएम बनाना है तो मुझे निकाला क्यों गया, मैंने तो पार्टी में नहीं छोड़ी, बल्कि निकाला गया।

पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब देेते हुए श्री चौटाला ने कहा कि गोहाना में सप्लाई किए गए सरसों के मिलावटी तेल की जांच करवाई जाएगी और इस मामले में जो दोषी होगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। इस मामले में अधिकारियों की एक कमेटी का गठन किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने अपने इस 67 दिन के अर्से में बुजुर्गों की पेंशन में 250 रुपए की बढ़ौतरी की है और जिससे कि प्रदेश के खजाने पर एक हजार करोड़ रुपए का बोझ पड़ा है, लेकिन सरकार राजस्व को बढाने का कार्य करेगी ताकि पेंशन की बढ़ौतरी में कोई गतिरोध न आए।

उन्होंने कहा कि बुजुर्गों के सम्मान में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि भाजपा-जेेजेपी गठबंधन सरकार ने 67 दिन में कॉमन मिनिमम कार्यक्रम के तहत जेजेपी के घोषणा पत्र के चार और बीजेपी के तीन वादे पूरे कर दिए हैं। इन दो महीनों में लिए गए फैसलों से प्रदेश की आम जनता बहुत खुश है। उन्होंने कहा कि हरियाणा प्रदेश विकास और खुशहाली के पथ पर है। पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए गठबंधन सरकार निष्पक्ष सरकार है और विकास में किसी प्रकार की यदि गड़बड़ी आती है तो उसकी जांच करवाई जाएगी। पत्रकारों से बातचीत करने से पहले उप मुख्यमंत्री श्री चौटाला ने कोर्ट परिसर के दो द्वारों का उद्घाटन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *