भारत में कोरोना वायरस के हालात बेकाबू, पिछले 24 घंटे में आए रिकॉर्ड 3656 मामले

भारत में कोरोना वायरस के हालात बेकाबू, पिछले 24 घंटे में आए रिकॉर्ड 3656 मामले

नई दिल्ली : (ब्यूरो) लॉकडाउन 3.0 के तहत सरकार की तरफ से दी गई छूट अब भारी पड़ने लगी है। भारत में कोरोना वायरस के मामलों में बेतहाशा बढ़ोतरी हो रही है। पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 3656 मामले सामने आए हैं। इनमें से सिर्फ महाराष्ट्र में 1567 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। भारत में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर अब 46549 पर पहुंच गई है।

भारत के कई शहरों में कोरोना वायरस संक्रमण के तीसरे दौर में प्रवेश कर गया है। महाराष्ट्र के मुंबई के अलावा गुजरात के अहमदाबाद और तमिलनाडु के चेन्नई में हालात खराब हैं। देश के तीन प्रमुख शहरों में 4 मई को दो हजार से अधिक संक्रमित मिले हैं।

आंकड़ों के मुताबिक 4 मई को पूरे देश में 3656 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इसके बाद कोरोना वायरस संक्रमितों की कुल संख्या 46549 हो गई है। इनमें से 32054 मरीजों का अस्पतालों में उपचार चल रहा है। 12919 लोग ठीक होकर अभी तक घर जा चुके हैं। कोरोना वायरस से 1572 लोगों की मौत हो चुकी है।

24 घंटे में एक हजार से ज्यादा हुए ठीक

भारत में कोरोना वायरस के बेकाबू होते हालात के बीच सिर्फ एक राहत की खबर हैं। देश में पहली बार 24 घंटे के भीतर 1 हजार से अधिक मरीज ठीक हुए हैं। आंकड़ों के मुताबिक 4 मई को 1084 लोग ठीक हुए हैं।

तीन राज्यों में 2400 मामले

देश में 4 मई को मिले कोरोना वायरस संक्रमितों में से 60 फीसदी मरीज सिर्फ तीन राज्यों में आए हैं। महाराष्ट्र-तमिलनाडु और गुजरात में 2450 से अधिक संक्रमित मिले हैं। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 1567 मरीज सामने आए हैं। जबकि तमिलनाडु में 527 और गुजरात में 376 लोग महामारी की चपेट में आए हैं। इसके अलावा दिल्ली में 349, राजस्थान में 175, पंजाब में 130, उत्तर प्रदेश में 121 और मध्यप्रदेश में 105 संक्रमित मिले हैं।

पूरे विश्व में ढ़ाई लाख की मौत

भारत के मुकाबले अमेरिका-स्पेन जैसे देशों के हालात बहुत ज्यादा खराब हैं। पूरे विश्व में कोरोना वायरस महामारी से होने वाली मौतों का आंकड़ा 2.52 लाख पर पहुंच गया है। आंकड़ों के मुताबिक बीमारी की चपेट में 36.43 लाख लोग आ चुके हैं। इनमें से 11.94 लाख मरीज ठीक हो चुके हैं। अमेरिका में सबसे ज्यादा 69 हजार से अधिक मरीजों की मौत हो चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *