पूर्व सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहा, अर्थव्यवस्था को दोबारा खड़ा करने में श्रमिकों की भूमिका महत्वपूर्ण

पूर्व सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने कहा, अर्थव्यवस्था को दोबारा खड़ा करने में श्रमिकों की भूमिका महत्वपूर्ण

चंडीगढ़ (ब्यूरो)  पूर्व सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने श्रमिक दिवस पर कहा कि कोरोना महामारी की वजह से करोड़ों मजदूरों की रोजी-रोटी छिन गई है। हम सब इकट्ठे काम करके ही इस संकट से निजात पा सकते हैं, दोबारा खड़े हो सकते हैं। इसमें श्रमिकों की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण है, क्योंकि वो किसी भी प्रगति का मूल आधार हैं। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन की सबसे बड़ी चोट सबसे पहले मजदूर वर्ग पर ही पहुंची। दीपेंद्र हुड्डा ने फैक्ट्री मालिकों व छोटे-बड़े दुकानदारों से आग्रह किया कि उनके लिए यह देशसेवा का अवसर है।

वे अपने मजदूर का ध्यान रखें, उनके घरों में ज्योति जलती रहे ये उनका फर्ज है। उन्होंने कहा कि फैक्ट्री वालों, दुकानदारों को मजदूरों की तनख्वाह, बिजली का फिक्स बिल, किराया, बैंक लोन का ब्याज और किश्त अदायगी जैसे खर्चे सहन करने पड़ रहे जबकि, कोई बिक्री नहीं हो रही। फैक्ट्री वालों, दुकानदारों को राहत देने के लिए कई तरह के उपाय सुझाते हुए बताया कि उनके लोन पर ब्याज माफ किए जा सकते हैं, मार्केटिंग बोर्ड की दुकानों का किराया माफ किया जा सकता है, बिजली के बिलों में राहत दी जा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *