ना धी ना तेल ना दिया ना बाती फिर भी बिना रुके बिना बुझे लगातार जल रही है जोत, ये कैसा चमत्कार ?

ना धी ना तेल ना दिया ना बाती फिर भी बिना रुके बिना बुझे लगातार जल रही है जोत, ये कैसा चमत्कार ?

ना आग, ना धुआ ना ताप फिर कैसे हजारो सालो से उबल रहा है पानी
ये श्रधा है ये चमत्कार है या कोई अनसुलझा रहस्य  
माँ की कोई प्रतिमा नही कोई आकर नही फिर कैसे है ये हजारो सालो से आस्था का केंद्र
ये श्रधा है ये चमत्कार है या कोई अनसुलझा रहस्य
विज्ञानिक क्या तलाश कर रहे है यहा ? क्यों अभी तक कोई निष्कर्ष तक नही पहुंच पाया है ?

ज्वालामुखी (ब्यूरो) :- 
 आज हम अपनी इस खास पेशकश में दर्शन करवाएगे देवी के एक एसे शक्ति पीठ के जहा ज्योति रूप में माँ देती है दर्शन माँ के इस मंदिर में कोई भी मूर्ति नही है बल्कि अखंड जोती के होते है दर्शन मंदिर में एसी 9 ज्वालाए जो लगातार जल रही है माँ के इस दरबार में पानी में भी आग लगती है जो माँ के शाक्शत रूप से होने का प्रमाण देती है ….माँ का यह धाम मोजूद है देव भूमि हिमाचल प्रदेश के काँगड़ा में मान्यता है की माँ के दर्शन मात्र से ही लोगो के मैन का अहंकार दूर हो जाता है उसी तरह जिस तरह माँ ज्वाला ने अकबर के घमंड को चूर चूर किया था…..

इस शक्ति पीठ में माँ की जिव्हा गिरी थी जिसके बाद से यहा लगातार जोती जलती है और इस शक्ति पीठ का नाम ज्वालामुखी पड़ा …आपको बता दे की अकबर ने भी माँ की महिमा को अन्धविश्वास समझ कर माँ के दरबार में जल रही जोतियो को शांत करने के लिए नेहर का रख माँ की जोतियो की और मोड़ दिया बताया जाता है की टेढ़ा मंदिर से नहर अकबर माँ की जोतियो को शांत करने के लिए उसका रुख मोड़ कर लाया था लेकिन अकबर की लाख कोशीशो के बाद भी ज्वाला वेसे ही जलती रही …..जिसके बाद अकबर का घमंड टुटा व अकबर दिल्ली से नंगे पैर चल कर माँ के दरबार पहुंचा और वहा माँ को सोने का छत्र चढाया जब अकबर को इस पर घमंड हुआ की उसने माँ को सोने का छत्र चढाया है तो वे सोने का छत्र एसी धातु में तब्दील हो गया जिसका विज्ञानिक भी आज तक पता नही चला पाए है।  माँ ज्वाला के दरबार में हवन का विशेष महत्व होता है कहते है यहा आकर किया गया हवन दस हजार यज्ञो का फल प्रदान करता है इतना ही नही माँ के दरबार में 5 बार होने वाली आरती भी बेहद विशेष मानी जाती है… मंदिर में एक स्थान है गोरख डिब्बी जिस स्थान में हमेशा पानी उबलता रहता है लेकिन अगर पानी को हाथ लगाया जाए तो पानी एक दम ठंडा है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *