नांदेड से लौटे श्रद्धालुओं से बढ़ी कोरोना की रफ्तार, 22 जिलों को तीन जोन में बांटा

नांदेड से लौटे श्रद्धालुओं से बढ़ी कोरोना की रफ्तार, 22 जिलों को तीन जोन में बांटा

पंजाब : (ब्यूरो)  कोरोना संक्रमण की रफ्तार ने अचानक पंजाब का माहौल बदल कर रख दिया है। जहां पहले धीरे-धीरे केस सामने आ रहे थे, वहीं नांदेड में फंसे श्रद्धालुओं को वापस लाने के बाद तेजी से संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। राज्य में बीते 48 घंटों में 204 मामले सामने आए। इसके साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 549 हो गई है। वहीं अब तक 6 महीने की बच्ची समेत 20 मरीजों की मौत हो चुकी है। बता दें कि महाराष्ट्र के नांदेड के हजूर साहिब में फंसे सभी श्रद्धालुओं वापस लाया जा रहा है। इसमें से अब तक 185 श्रद्धालु पॉजिटिव मिले हैं। कुल संक्रमितों में से सबसे ज्यादा केस अमृतसर में 90, जालंधर में 89, मोहाली में 87, लुधियाना में 77, पटियाला में 63 और पठानकोट में 25 मरीज पाए जा चुके हैं। यह सभी जिले अब कोरोना हॉटस्पॉट बने गए हैं।

राज्य के जिलों को तीन जोन में बांटा राज्य के हालात को देखते हुए शुक्रवार को सरकार ने जिलों को लेकर सूची जारी की। नई सूची के अनुसार अगर किसी जिले में 21 दिन से कोरोना वायरस का नया केस नहीं आता है तो वह ग्रीन जोन में आ जाएगा। पहले ये समय सीमा 28 दिनों का था। रेड जोन में 4 जिले पंजाब की राजधानी चंडीगढ़ के अलावा 3 और जिले जालंधर, पटियाला और लुधियाना को रेड जोन में शामिल किया गया है। ऑरेंज जोन में 15 जिले मोहाली, पठानकोट, मानसा, तरनतारन, अमृतसर, कपूरथला, होशियारपुर, फरीदकोट, संगरूर, नवाशहर, फिरोजपुर, मुक्तसर, मोगा, गुरदासपुर, बरनाला को ऑरेंज जोन में रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *