धरने पर बैठे पीटीआई अध्यापकों के समर्थन में आई कांग्रेस, धरनास्थल पर पहुंच कर दिया समर्थन

धरने पर बैठे पीटीआई अध्यापकों के समर्थन में आई कांग्रेस, धरनास्थल पर पहुंच कर दिया समर्थन

फतेहाबाद(किशोर कुमार)। सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के बाद प्रदेश में हटाए गए पीटीआई अध्यापकों के बारे में सरकार सहानुभूति पूर्वक विचार करे। सरकार सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के अनुसार इन्हें एक और चांस दे और इन्हें समायोजित करे। लघु सचिवालय के बाहर धरने पर बैठे पीटीआई अध्यापकों को समर्थन देने पहुंचे पूर्व सीपीएस प्रहलाद सिंह गिलाखेड़ा ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि अगर सरकार की मंशा साफ हो तो 1900 से अधिक इन पीटीआई अध्यापकों को बेरोजगार होने से बचा सकती है। उन्होंने इससे पूर्व भी सरकारों ने 1600 पुलिसकर्मियों को समायोजिक किया है।

एमआईटीसी विभाग के खत्म होने के बाद कर्मचारियों और अधिकारियों को समायोजित किया गया। उसी प्रकार विधानसभा में एक अध्यादेश लाकर इन्हें भी बेरोजगार होने से बचाया जा सकता है।

धरने पर बैठे पीटीआई अध्यापकों के समर्थन में आई कांग्रेस, धरनास्थल पर पहुंच कर दिया समर्थन

वहीं उन्हें प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था के बारे में बोलते हुए कहा कि जिस प्रदेश में सरकार में शामिल उनके मंत्री और विधायक भी सरेआम यह कहें कि उनकी कोई नहीं सुनता, तो इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि वहां अफसरशाही कितनी हावी होगी। उन्होंने कहा कि जहां अफसरशाही हावी होगी वहीं क्रप्शन और क्राइम में इजाफा होगा ही। वहीं सोनाली फोगाट की गिरफ्तारी और जमानत पर उन्होंने टिप्पणी से इंकार करते हुए कहा कि मामला कोर्ट में विचाराधीन है, इसलिए वे इस पर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे।

Published By: Pooja Saini

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *