चीन के हाथों की कठपुतली है WHO,चीन को सबक सिखाने के अमेरिका उठाएगा कदम – डोनाल्ड ट्रंप

चीन के हाथों की कठपुतली है WHO,चीन को सबक सिखाने के अमेरिका उठाएगा कदम - डोनाल्ड ट्रंप

कोरोना वायरस महामारी से जूझ रहे अमेरिका ने चीन के प्रति कड़ा रुख अख्तियार किया है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) चीन के हाथों की कठपुती है। राष्ट्रपति ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के बारे में बहुत ही जल्दी कुछ सरफिरे लेकर आएंगे। इसके बाद चीन के खिलाफ भी ऐसा ही कदम उठाया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आगे कहा कि डब्ल्यूएचओ ने कोरोना वायरस को लेकर गुमराह किया है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने ओवल कार्यालय में पत्रकारों से बीतचीत में कहा कि हम बहुत ही जल्दी सिफारिश लेकर आएंगे। हम डब्ल्यूएचओ से खुश नहीं हैं। डब्ल्यूएचओ की भूमिका की जांच शुरू डोनाल्ड ट्रंप ने आगे कहा कि हमने कोरोना वायरस को फैलाने में विश्व स्वास्थ्य संगठऩ की जांच शुरू की है। अमेरिका ने जांच लंबित रहने तक डब्ल्यूएचओ को दी जाने वाली मदद भी रोक दी है। जांच में अमेरिका चीन की भूमिका देखा की चीन के वूहान में कोरोना वायरस कैसा फैला। जब पत्रकारों ने डोनाल्ड ट्रंप से पूछा कि आपने खुफिया एजेंसियों से जो जांच शुरू कराई है, उससे आप चीन और डब्ल्यूएचओ के बारे में क्या जानने की उम्मीद कर रहे हैं? इस सवाल के जवाब में ट्रंप ने कहा कि हम डब्ल्यूएचओ से खुश नहीं है और इसके लिए सबसे अधिक योगदान करते हैं। हमें उन्होंने गुमराह किया है। मुझे नहीं पता। वे जो जानते थे, उन्हें उससे ज्यादा पता होना चाहिए था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *