गंगाजल लाना है, डाकघर जाना है।

गंगाजल लाना है, डाकघर जाना है।

सावन महीने में हरिद्वार से नही ,डाकघर से मिल रहा गंगाजल।
200 एमएल की बोतल 30 रुपए में मिलेगी।
डाकघर से हर रोज 20 से 40 लोग ले जा रहे हैं गंगाजल।
शिवरात्रि के दिन गंगाजल पहुंचाने के लिए लगाएंगे विशेष स्टॉल।
डाकघर में गंगाजल की भरपूर उपलब्धता।
बहादुरगढ़ (प्रवीण कुमार धनखड़) :-
सावन के पवित्र माह में हर बार भगवान महादेव को प्रसन्न करने के लिए काफी लोग कावड़ लेने हरिद्वार- गंगोत्री जाते हैं। लेकिन इस बार कोरोना के कारण कावड़ यात्रा पर रोक लगाई गई है। पवित्र गंगा में स्नान के लिए भी लोग धार्मिक स्थलों पर नहीं जा पा रहे हैं। ऐसे लोगों की आस्था पूरी करने के लिए इस बार डाक विभाग अहम भूमिका निभा रहा है। गंगाजल प्रोजेक्ट के तहत डाकघरों में गंगाजल दिया जा रहा है। जो लोग हरिद्वार-गंगोत्री नहीं जा पा रहे वह डाकघर से गंगाजल लेकर शिवलिंग पर चढ़ा सकते हैं। आस्था पर कोरोना भारी ना पड़े इसलिए यह मुहिम अब रंग ला रही है। दरअसल यह योजना काफी समय पहले शुरू की गई थी, लेकिन तब लोगों ने इसमें कोई खास रुचि नहीं दिखाई। बहुत कम लोग ही गंगाजल डाकघर लेने पहुंचते थे। लेकिन अब कोरोना काल में इस योजना को संजीवनी मिली है। साथ ही लोगों के भी मन की भावना पूरी हो रही है। सावन महीने की शुरुआत से ही लोग डाकघरों में गंगाजल लेने पहुंच रहे हैं। बहादुरगढ़ के झज्जर रोड पर स्थित मुख्य डाकघर में रोजाना काफी लोग गंगाजल लेने आ रहे हैं। इस डाकघर में 200 एम एल की गंगाजल की बोतल 30 रुपए में दी जा रही है। श्रद्धालुओं की मांग के हिसाब से लगातार स्टॉक मंगवाया जा रहा है।
डाकघर के हेड पोस्ट मास्टर दीपक मल्होत्रा ने बताया कि यहां रोजाना 20 से 30 बोतल गंगाजल की बिक रही है। क्योंकि सावन का महीना अभी शुरु ही हुआ है, तो आगामी दिनों में डिमांड बढ़ने की संभावना है। अहम बात यह भी है कि यह सुविधा अभी ऑनलाइन नहीं है इसके लिए लोगों को खुद ही डाक घर जाना होगा। हिंदू धर्म ग्रंथों में मां गंगा के पानी को सबसे पवित्र जल बताया गया है। भगवान शिव को शीतल रखने और उन्हें प्रसन्न करने के लिए श्रद्धालु गंगाजल से शिवलिंग पर जलाभिषेक करते हैं। इस बार शिवरात्रि 18 जुलाई को है। श्रद्धालुओं को किसी तरह की परेशानी ना हो इसके लिए डाकघर की ओर से शहर के 4 बड़े मंदिरों के पास विशेष स्टॉल लगाई जाएगी। जहां से श्रद्धालु गंगाजल की बोतल खरीद सकेंगे और अपनी मनोकामना पूर्ति के लिए भगवान शिव को गंगा जल अर्पित कर सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *