कोरोना संकट के दौरान रोक के बावजूद कमरुनाग मंदिर पहुंच रहे श्रद्धालु, पुलिस ने पंचायत प्रतिनिधियों के साथ की बैठक…

कोरोना संकट के दौरान रोक के बावजूद कमरुनाग मंदिर पहुंच रहे श्रद्धालु, पुलिस ने पंचायत प्रतिनिधियों के साथ की बैठक...

सुंदरनगर (नितेश सैनी)। कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों को लेकर प्रदेश सरकार द्वारा धार्मिक स्थलों पर जाने पर रोक के बावजूद लोगों का आस्था की आड़ में खिलवाड़ जारी है। वहीं सुंदरनगर-करसोग मार्ग पर स्थित रोहांडा से भी जिला के अराध्य देव कमरूनाग जाने के मार्ग पर मंदिर जाने के लिए लोगों की आवाजाही दिन प्रतिदिन बढ़ रही है। इस पर कड़ा संज्ञान लेते हुए वीरवार को थाना प्रभारी बीएसएल कालोनी सुंदरनगर प्रकाश चंद मिश्रा ने पंचायत भवन रोहांडा में पंचायत प्रतिनिधियों, व्यापार मंडल और देव कमेटी कमरुनाग सुकेत रोहांडा के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में सभी को सहयोग देने के साथ बार-बार आग्रह करने के बावजूद लोगों द्वारा नियमों की उल्लंघन करने पर सख्त कानूनी कार्रवाई के लिए आश्वस्त किया गया।

बता दें कि जिला में मंदिरों के कपाट अभी भी बन्द हैं और इसके बावजूद उपायुक्त मंडी के आदेशों को लोग ठेंगा दिखा रहे हैं। उधर दुनी चंद ठाकुर प्रधान देव कमेटी कामरुनाग सुकेत रोहांडा ने कहा कि अभी मंदिर के कपाट पूरे तरीके से बंद पड़े है। मंदिर में शीश नवाने से कोई भी फायदा नहीं है। जब मंदिर के कपाट पूरे विधि विधान से खुलेंगे तभी सही मायने में देव दर्शन का फल मिलेगा। उन्होंने कहा कि 15 जून संक्रान्ति के दिन भी सिर्फ कमेटी के लोग ही भाग लेकर मात्र औपचारिकता करेंगे। मामले पर प्रकाश चंद मिश्रा थाना प्रभारी बीएसएल कालोनी सुंदरनगर ने कहा कि बार-बार प्रशासन और पुलिस द्वारा देव कमरूनाग मंदिर नहीं जाने के लिए लोगों को कहा गया है। उन्होंने कहा कि अगर समझाने पर भी लोग नहीं मानते है तो उनको जुर्माने के साथ कड़ी सजा का प्रावधान है।इस मौके पर निहरी पुलिस चौकी प्रभारी कुलदीप कुमार, केसर सिंह, गोवेर्धन सिंह व स्थानीय पंचायत प्रधान प्रकाश चंद और उप प्रधान यशवंत भी मौजूद रहे।

Published By: Pooja Saini

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *