कोरोना काल में कैसे रहे स्वस्थ!

कोरोना काल में कैसे रहे स्वस्थ!


जिम बंद होने से लोग परेशान,साइकिलिंग का बढ़ा क्रेज
सुबह शाम सड़कों पर दौड़ती नजर आई साईकल 
यमुनानगर (सुमित ओबरॉय) :-
 कोरोना वैश्विक महामारी के चलते लोग अपने स्वास्थ्य के प्रति और सजग होते हुए दिखाई दे रहे है। एक तरह जहाँ जिम बन्द पड़े है ।ऐसे में युवाओं से लेकर हर उम्र की महिलाओं और पुरुषों में साइकिलिंग का खास क्रेज़ बढ़ गया है। सुबह शाम यमुनानगर की सड़कों पर साईकल दौड़ती नजर आती है। कई साइकिलिंग ग्रुप तो कई किलोमीटर तक साईकल चलाते है उनका कहना है कि साइकिलिंग अपने आप को फिट रखने का एक बहुत बढ़िया तरीका है और ये बहुत अच्छी एक्सरसाइज है। साथ ही इस लॉक डाउन और अनलॉक फेस में जहाँ बड़े बड़े कारोबार बंद पड़े है वही बाजार में जो साईकल विक्रेता एक से दो साईकल बेचा करते थे आज साइकिलिंग के बढ़ते क्रेज़ के चलते 10 से 15 साईकल रोज बिक रही है ।जिसमे 5 हज़ार से लेकर एक लाख तक साईकल भी शामिल है । लॉक डाउन में बढ़ा लोगो मे साइकिलिंग का क्रेज़। सुबह शाम साइकिलिंग करते लोग बन रहे है आकर्षण का केंद्र।इन्हें साइकिलिंग करते देख ऐसा लगता है कि मानो कोई रेसिंग इवेंट हो रहा हो।लोगो मे साइकिलिंग को लेकर एक जनून से दिख रहा है।यमुनानगर स्थित साइक्लिंग ग्रुप साइक्लो बड्स के सुमीत गुप्ता ने कहा, “हमारा समूह पिछले 3 वर्षों से साइकिल चला रहा है और हम नियमित रूप से एक दिन में लगभग 20-25 किलोमीटर की दूरी तय करते हैं।

हम आम जनता के बीच एक बढ़ती प्रवृत्ति देख रहे हैं और अधिक लोग साइकिल चलाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं क्योंकि कोविद -19 के कारण व्यायामशालाएं बंद हैं। जो लोग फिट रहना चाहते हैं वे साइकिलिंग कर रहे हैं। कार्यदिवस के दौरान, हम शहर के क्षेत्रों के भीतर लगभग 20-25 किमी की दूरी तय करते हैं, और सप्ताहांत पर, हम शहर के बाहर 50-70 किमी के बीच लंबी दूरी की सवारी करते हैं। साइकिलिंग स्वस्थ रहने के लिए एक बहुत ही अच्छी एक्सरसाइज है।और ये बहुत अच्छी बात है कि इसका क्रेज़ बढ़ रहा है। यमुनानगर के मॉडल टाउन से कलर्स साइकिल के एक डीलर संजीव सेठी ने कहा, “लॉकडाउन के दौरान पहाड़ और सड़क बाइक सहित प्रीमियम साइकिलों की मांग अचानक बढ़ गई है ।और कंपनियां मांग के अनुसार आपूर्ति नहीं कर पा रही हैं। कंपनियां कह रही हैं कि श्रम की कमी और कोविद -19 के कारण विनिर्माण प्रभावित हुआ है। अंतरराष्ट्रीय परिवहन प्रतिबंध के कारण आपूर्ति भी प्रभावित है। ग्राहक फ़ायरफ़ॉक्स, रैले, फ्रॉग, क्रोस, सनक्रॉस और अन्य जैसे आयातित ब्रांडों की बाइक की मांग कर रहे हैं। हीरो और हरक्यूलिस जैसे ब्रांडों की भी मांग है।ग्राहकों की डिमांड को ध्यान में रखते हुए कम्पनियां इसमे अब ई एम आई तक दे रही है।साईकल का इंसोरेंस भी हो रहा है। इस बार, कोविद -19 के दौरान फिट रहने के लिए साइकिल चलाने में दिलचस्पी दिखाने वाले वयस्कों के लिए साइकिल की मांग बढ़ी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *