उच्चाधिकारियों से छिपाई जानकारी, थाना प्रभारी समेत दो पर गिरी गाज, जानिए पूरा मामला…

उच्चाधिकारियों से छिपाई जानकारी, थाना प्रभारी समेत दो पर गिरी गाज, जानिए पूरा मामला...

• साधु से मारपीट कर दाढ़ी में लगाई आग
• बिछवा थाना क्षेत्र की घटना
• पुलिस कर्मियों ने मामले में की लेट लतीफी
• एसएचओ समेत दो पुलिस कर्मी हुए सस्पेंड

मैनपुरी(आशीष सक्सेना)। यूपी में मैनपुरी जनपद के बिछवा थाना क्षेत्र के अंजनी-जसराऊ रोड पर बने बरखंडी आश्रम में एक साधु से कुछ लोगों ने मारपीट कर वहां रखा दानपात्र और साधु के पास मौजूद नकदी लूट ली, इतना ही नहीं बदमाशों ने साधु को समीप के खेत में ले जाकर उनकी दाढ़ी में भी आग लगा दी। बाद में साधु को एक कमरे में बंद कर लुटेरे वहां से फरार हो गए। आश्रम में साधु के साथ हुई मारपीट और लूटपाट की घटना को लेकर स्थानीय लोगों में भी काफी रोष देखा गया है। हालांकि लोगों की ओर से पुलिस को मामले की सूचना दे दी गई थी। सूचना मिलने के दो दिन बाद पुलिस की ओर से मामले में शिकायत दर्जकर उच्चाधिकारियों को इसकी जानकारी नहीं दी गई, जिसके बारे में पता चलने पर मामले की जांच करवाई गई।

जांच के बाद थाना प्रभारी सुनील कुमार और उप निरीक्षक रामबीर मलिक को सस्पेंड कर दिया गया। यहां हैरानी की बात है कि जिस प्रदेश के मुखिया यानि मुख्यमंत्री खुद एक मठ से आते है। ऐसे में वहां की पुलिस किसी दूसरे मठ के पुजारी के साथ हुई घटना में कैसे लापरवाही बरत सकती है। खैर थाना प्रभारी और दूसरा पुलिस कर्मी ये बात नहीं समझ सका और इसी का परिणाम निकला कि पुलिस के उच्चाधिकारियों ने इसे गंभीरता से लेकर जांच करवाने के बाद दोनों को सस्पेंड कर दिया। फिलहाल देखने वाली बात होगी कि अपने कर्मचारियों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई करने वाली यूपी पुलिस आश्रम में लूटपाट की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों को कब तक गिरफ्तार कर पाती है।

Published By: Pooja Saini

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *