इंद्री के सरकारी अस्पताल में 42 संदिग्ध लोगों के लिए गए कोरोना के सैंपल, सख्त हुआ प्रशासन…

इंद्री के सरकारी अस्पताल में 42 संदिग्ध लोगों के लिए गए  कोरोना के सैंपल, सख्त हुआ प्रशासन...

इंद्री(मेनपाल कश्यप)। इंद्री कोरोना वायरस को लेकर सरकार की सजगता के चलते मंगलवार को इंद्री के सरकारी अस्पताल में 42 संदिग्ध लोगों के कोरोना के सैंपल लिए गए। पुलिस कर्मचारियों, बैंक कर्मचारियों और कोरोना के संदिग्ध लक्षण वाले लोगों के सैंपल लिए गए। गांव घीड के कोरोना पॉजिटिव युवक सुरेश कुमार के परिवार के 11 लोगों के भी सैंपल लिए गए। करनाल के कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज से विशेष एंबुलेंस इंद्री पहुंची। डॉ पंकज कंबोज के नेतृत्व में संदिग्ध लोगों के करोना के सैंपल लेने की कार्रवाई शुरू की गई। सैंपल लेने से पूर्व लोगों की सभी औपचारिकताएं पूरी की गई। इस अवसर पर डॉक्टर पंकज कंबोज ने बताया कि इंद्री में क्षेत्र के संदिग्ध लोगों के आज सैंपल लिए गए हैं। जिनमें कोरोना होने की संभावनाएं जताई जा रही थी।

उन्होंने बताया कि आज इंद्री के सरकारी अस्पताल में बैंक, पुलिस कर्मचारियों सहित अन्य लोगों के सैंपल लिए गए। इंद्री में पिछले कई दिनों से चरणबद्ध तरीके से करोना कि आशंकाओं को देखते हुए लोगों के सैंपल लेने की प्रक्रिया चल रही है। मंगलवार को भी कोरोना के संभावित 42 लोगों के सैंपल लिए गए हैं। सैंपल की रिपोर्ट कल तक आ जाएगी। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी एक दूसरे से संपर्क में आने से अधिक फैलती है इसलिए जितना जरूरी हो सके उतना सावधानी बरतें। मास्क पहने तथा सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करें और बहुत जरूरी काम हो तो ही घर से निकले। सरकार द्वारा निर्धारित किए गए नियमों की पालना करें। उन्होंने कहा कि जिस भी व्यक्ति में खांसी, जुखाम, बुखार आदि संभावित करोना के लक्षण नजर आए वह तुरंत अस्पताल में पहुंच कर डॉक्टरों से संपर्क करें। डॉ पंकज ने लोगों से अपील की कि ट्रैवल हिस्ट्री वाले लोग अपने घर में प्रवेश करने से पूर्व अपना कोरोना का टेस्ट जरूर कराएं। लोग भी ट्रैवल हिस्ट्री वालों की जानकारी को ना छुपाए। इस मामले में तत्काल प्रशासन को सूचित करें।

Published By: Pooja Saini

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *