अभय चौटाला ने भतीजे दुष्‍यंत पर साधा निशाना कहा- ये जल्‍द हो जाएंगे खत्‍म

अभय चौटाला ने भतीजे दुष्‍यंत पर साधा निशाना कहा- ये जल्‍द हो जाएंगे खत्‍म

इनेलो नेता अभय चौटाला ने जेजेपी में विद्रोह की सुगबुगाहट होते ही दुष्‍यंत चौटाला पर हमला करने में देर नहीं लगाई।
उन्‍होंने कहा कि इनेलो को खत्‍म करने वाले खुद जल्‍द ही खत्‍म होंगे।

चंडीगढ़,(भारत 9)। जननायक जनता पार्टी में बगावत की सुगबुगाहट के साथ ही इनेलो नेता अभय चौटाला को अपेन भतीजे व उपमुख्‍यमंत्री दुष्‍यंत चौटाला पर निशाना साधने का मौका मिल गया। हरियाणा विधानसभा में विपक्ष के नेता रह चुके अभय चौटाला ने दुष्यंत चौटाला पर बड़ा हमला बोला है। जजपा संरक्षक के नाते दुष्यंत चौटाला और उनकी कोर टीम भले ही नारनौंद के बागी विधायक रामकुमार गौतम की नाराजगी दूर करने का दावा कर रही, लेकिन अभय सिंह चौटाला को लगता है कि अगले कुछ दिनों में जजपा के आठ विधायक विरोध की आवाज बुलंद करेंगे।

जजपा में बगावत के बाद भतीजे दुष्यंत पर चाचा अभय चौटाला का बड़ा वार

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज की सिरसा बैठक में नशे के कारोबारियों पर हमला बोलने के बाद चंडीगढ़ पहुंचे अभय चौटाला भतीजे दुष्यंत चौटाला पर जमकर बरसे। मीडिया से बातचीत में उन्होंने स्पष्ट कहा कि जिन लोगों ने इनेलो को खत्म करने की कोशिश की, अब उनकी पार्टी जजपा भी खत्म होने के कगार पर है। अभी सिर्फ रामकुमार गौतम ने विरोध के स्वर बुलंद किए हैं। आने वाले समय में गौतम के अलावा बाकी सात विधायक भी जजपा में बगावत करेंगे।

अभय चौटाला बोले-अभी एक विधायक बोला, बाकी सात विधायक भी जल्द बागी होंगे

अभय सिंह चौटाला को उम्मीद है कि विधायकों के विरोध के बाद जजपा का भाजपा में विलय हो जाएगा। जिस भाजपा ने हमारी पार्टी के विधायकों को तोडऩे से नहीं परहेज किया, वह भाजपा अब जजपा के विधायकों को कैसे चैन से बैठने दे सकती है। जजपा विधायकों के विरोध की वजह भले ही दुष्यंत चौटाला का रवैया है, लेकिन इस खेल में भाजपा भी शामिल है। रामकुमार गौतम खुद मीडिया में कह चुके कि दुष्यंत चौटाला खुद उप मुख्यमंत्री बन गए और अपने पास 11 विभाग लेकर हर वह काम कर रहे हैं, जिसे लेकर भाजपा पाक-साफ बनने का दावा करती आ रही है।

नारनौंद की सीट को लेकर कैप्टन अभिमन्यु और अजय सिंह चौटाला के बीच डील के रामकुमार गौतम के आरोपों पर अभय चौटाला ने कहा कि यह लोग डील करने में माहिर हैं। ये वही लोग हैं, जिन्होंने इनेलो को खत्म करने के लिए भाजपा के साथ सौदा किया था, लेकिन हमारी पार्टी स्व. देवीलाल और चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के सिद्धांतों पर चलने वाली है, जिसकी ताकत उसके कार्यकर्ता हैं। 75 पार का नारा देने वाली भाजपा का हश्र सबके सामने है। उसकी सहयोगी पार्टी जजपा का हश्र अगले छह माह में सबके सामने होगा तथा इनेलो फिर पूरी मजबूती के साथ खड़ी होगी।

बोले- चावल मिलों से जमा किया गया पैसा, मैं बताऊंगा कहां पहुंचा

अभय सिंह चौटाला यहीं नहीं रुके। उन्होंने कहा कि चावल मिलों में घोटाले की जांच के नाम पर प्रत्येक मिल से एक-एक लाख रुपये इकट्ठा किए गए। चावल मिलों की वेरीफिकेशन रिपोर्ट आ जाने के बाद वह खुद बताएंगे कि किस मिल से कितने पैसे जमा हुए और वह किस व्यक्ति तक किसके माध्यम से पहुंचे। अभय सिंह के अनुसार असली धान घोटाले की जांच ही नहीं कराई गई।

नशे का धंधा रोकने का दिखावा कर रही भाजपा सरकार

ऐलनाबाद से इनेलो विधायक अभय चौटाला नशे के कारोबार को रोकने के सरकारी प्रयासों से खुश नहीं हैं। उन्होंने कहा कि गृहमंत्री अनिल विज को उन्होंने शिकायच दी। उन्होंने शिकायत पर एक माह बाद अगली बैठक में अफसरों से कार्रवाई रिपोर्ट मांगी, जबकि मौके पर ही नशे के कारोबारियों का संरक्षण करने वाले अधिकारी बैठे थे और उनसे तभी जवाब तलब करना चाहिए था।

ओम प्रकाश चौटाला 14 दिन के फरलो पर जेल से बाहर आए

पश्चिमी दिल्ली : जेबीटी भर्ती घोटाले में दस साल की सजा काट रहे हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला और उनके बेटे अजय चौटाला को 14 दिन की फरलो मिली है। इसको लेकर जेल प्रशासन ने शुक्रवार को आदेश जारी किया था। शनिवार को पिता-पुत्र तिहाड़ जेल से निकलकर घर के लिए रवाना हो गए। जेल महानिदेशक संदीप गोयल ने बताया कि नियमों के मुताबिक सजा काट रहे कैदी एक साल में तीन बार फरलो ले सकते हैं। पहली बार तीन हफ्ते का और दो बार दो-दो हफ्ते का। पिता-पुत्र इस वर्ष दो फरलो पहले ले चुके हैं। उनका तीसरा फरलो बाकी था, इसके लिए दोनों ने जेल प्रशासन के पास आवेदन दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *