Lord Buddha

भगवान बुद्ध के चिकित्सक कौन थे, गजब है इनकी कहानी

अत्रेय तक्षशिला विश्वविद्यालय में वैद्यकीय आचार्य थे। वह अपने सभी स्टूडेंट्स को मेहनत से पढ़ाते और उनकी कड़ी परीक्षा लेते। वह जानते थे कि एक तरफ जहां वैद्यकीय ज्ञान मानव सेवा का सर्वोत्तम माध्यम है वहीं ज्ञान की जरा सी कमी समाज के लिए अमानवीय है। इसलिए वे शिष्यों की काफी जांच के बाद ही सर्टिफिकेट देते थे। उनके शिष्यों में जीवाका नाम का भी एक स्टूडेंट था जो कुशल