सूर्य ग्रहण

1723 में बना था ऐसा संयोग, 26 दिसंबर को 296 साल बाद शुभफल वाला होगा सूर्य ग्रहण

इस बार यह दुर्लभ ग्रह-स्थिति में हो रहा है। वृद्धि योग और मूल नक्षत्र में हो रहे इस ग्रहण के दौरान बृहस्पतिवार और अमावस्या का संयोग बन रहा है। वहीं धनु राशि में 6 ग्रह एक साथ हैं। रोहतक,25दिसंबर(संदीप सैनी) सूर्य ग्रहण से कई तरह के बदलाव देखने को मिलते हैं। सूर्य ग्रहण के समय लोग मंत्र जाप आदि भी करते हैं। सूर्य ग्रहण से नुकसान होता है ऐसा माना