SPO ने क्यों फूंका पूर्व मुख्यमंत्री का पुतला, जानिए वजह !

SPO ने क्यों फूंका पूर्व मुख्यमंत्री का पुतला, जानिए वजह !

एसपीओ का आरोप हुड्डा ने सत्ता में आते ही उन्हें नौकरी से हटाया था !
गोहाना (सुनील जिंदल) :-
हुड्डा सरकार के कार्यकाल में बर्खास्त और इस समय हरियाणा पुलिस में स्पेशल पुलिस ऑफिसर (एसपीओ) ने सोमवार को शहर में जुलूस निकाल कर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के खिलाफ प्रदर्शन किया। एसपीओ ने हुड्डा के पुतले के साथ शहर में शवयात्रा निकाली और डॉ. आंबेडकर चौक में पुतला फूंका। एसपीओ ने सिंचाई विभाग के विश्रामगृह पर सांसद संजय भाटिया को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंप और स्थायी नियुक्ति की मांग भी की। सपीओ का कहा कि राज्यसभा सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने एक सप्ताह पहले विडियो जारी करके कहा था कि पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के दस साल के कार्यकाल में किसी भी कर्मचारी को नौकरी से नहीं निकाला गया।

सुखबीर सिंह ने कहा कि हुड्डा ने सत्ता में आते ही 2005 में हरियाणा राज्य औद्योगिक सुरक्षा बल एक्ट को रद करके सैकड़ों सुरक्षा बलों नौकरी से निकाल दिया था। औद्योगिक सुरक्षा बल 2004 में इनेलो सरकार के कार्यकाल हवलदार के पद पर भर्ती हुए थे। उन्होंने कहा कि हुड्डा सरकार के कार्यकाल में ही 125 चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों को नौकरी से हटाया गया। 2016 में भाजपा के सरकार ने बर्खास्त जवानों को पुलिस विभाग में एसपीओ के पद पर भर्ती किया। एसपीओ ने पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा के खिलाफ रोष व्यक्त किया। एसपीओ ने रोहतक रोड स्थित बस स्टैंड से हुड्डा के पुतले के साथ शवयात्रा शुरू की। डॉ. आंबेडकर चौक में पुतला फूंका गया। इसके बाद एसपीओ सिंचाई विभाग के विश्रामगृह पहुंच कर करनाल से भाजपा सांसद संजय भाटिया से मिले और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। एसपीओ ने एसपीओ को हरियाणा पुलिस में हवलदार के पद पर समायोजित करने की मांग की।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *