E-PASS की अनिवार्यता खत्म, सर्दी, मरीजों का रखना होगा रिकार्ड, नए आदेश  जारी !

E-PASS की अनिवार्यता खत्म, सर्दी, मरीजों का रखना होगा रिकार्ड, नए आदेश  जारी !

प्रशासन विभाग ने सभी कलेक्टरों को जारी किए आदेश!

रायपुर (ब्यूरो) :-
  छत्तीसगढ़ सरकार ने अंतरराज्यीय और राज्य के भीतर आवागमन के लिए ई-पास की अनिवार्यता समाप्त कर दी है। इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग (जीएडी) ने सभी कलेक्टरों को आदेश जारी कर दिया है। इसमें अंतरराज्यीय आवगमन पर क्वारंटाइन के नियम में फिलहाल कोई राहत नहीं दी गई है। यानी दूसरे राज्य से आने वालों को क्वारंटाइन में ही रहना पड़ेगा। जीएडी से जारी आदेश के अनुसार राज्य में ई-पास की अब जरूरत नहीं पड़ेगी, लेकिन कोरोना संक्रमण नियंत्रण और कांट्रेक्ट ट्रेसिंग के लिए स्वैच्छिक रूप से ई-पास का उपयोग किया जा सकेगा। जीएडी ने आदेश में कलेक्ट्रों से कहा है कि आवागमन के स्थलोंजैसे एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, अंतरराज्यीय जांच चौकी आदि पर बिना ई-पास आवागमन करने वाले यात्रियों से ई-पास के लिए आवेदन करने का अनुरोध किया जाए। इससे ट्रेवल हिस्ट्री का रिकार्ड उपलब्ध होगा और संभावित मरीजों की समय पर पहचान की जा सकेगी। सरकारी व निजी अस्पतालों में सर्दी,खांसी व बुखार सहित अन्य बीमारियों का इलाज करने वाले मरीज अब अपनी पहचान नहीं छुपा पाएंगे। निजी अस्पताल संचालक के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग प्रत्येक मरीज का रिकार्ड रखेगा। बता दें कि जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने के बाद स्वास्थ्य विभाग नेनिजी अस्पताल संचालकों को पत्र लिखकर सर्दी, खांसी व बुखार व अन्य बीमारियों का इलाज कराने वाले मरीजों की संख्या रोजना उपलब्ध कराने कहा है। बीते दो सप्ताह से निजी अस्पताल में बड़ी संख्या में सर्दी, खांसी व बुखार के मरीज इलाज कराने पहुंचे हैं। कुछ सप्ताह से बड़ी संख्या में लोग निजी अस्पतालों में इलाज के लिए रुख कर रहे हैं। जिसमें सबसे अधिक मरीज बुखार के हैं। उसके बाद सिर दर्द व बदन दर्द के। निजी अस्पतालों में सर्दी, खांसी व बुखार के मरीजों की संख्या बढ़ने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने ऐसे मरीजों के रिकार्ड मंगाया है। जिसमें संबंधित मरीज का नाम, उम्र, पता व मोबाइल नंबर अंकित होगा। यदि किसी मरीज में अधिक सर्दी, खांसी व बुखार की शिकायत होगी तो स्वास्थ्य विभाग की टीम उसे ट्रेस करते हुए सैंपल लेने के लिए पहुंचेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *