हरियाणा कैबिनेट का फैसला: अब मेयर की तरह ही सीधे चुने जाएंगे नगर परिषद और नगर पालिका के प्रधान,नहीं लाया जा सकेगा अविश्वास प्रस्ताव !

हरियाणा कैबिनेट का फैसला: अब मेयर की तरह ही सीधे चुने जाएंगे नगर परिषद और नगर पालिका के प्रधान,नहीं लाया जा सकेगा अविश्वास प्रस्ताव !

महिलाओं की होगी 50 फीसदी ‘भागेदारी’
26 अगस्त से शुरू होगा मानसून सत्र, पेश होंगे कई अध्यादेश  
किसी स्वतंत्रता सेनानी की पेंशन बंद नहीं की: मनोहर   
चंडीगढ़ (ब्यूरो) :-
 सरपंच के चुनाव में हरियाणा सरकार पिछड़ी जाति के बीसीए ग्रुप को आठ प्रतिशत आरक्षण देगी। हरियाणा की कैबिनेट की बैठक में ऐसे कई फैसले लिए गए… इसके साथ ही प्रदेश में बीसीए और बीसीबी पिछड़ी जाति के दो ग्रुप है…  बीसीबी ग्रुप की प्रदेश में काफी संख्या है। साथ ही हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने भी हरियाणा के युवाओं को 90 प्रतिशत आरक्षण देने की बात कही है… सीएम मनोहर लाल ने सभी मंत्रियों और आला अफसरों से चर्चा के बाद ये निर्णय लिया है। सत्र कितने दिन चलेगा। इसका निर्णय बिजनैस एडवाइजरी की कमेटी में तय होगा।

बता दे कि 26 अगस्त से मानसून का सत्र शुरू होने वाला है..बैठक में ये भी फैसला लिया गया कि अब पहले की तरह यानि जैसे मेयर के चुनाव होते थे.. अब नगर परिषद् और नगर पालिका के प्रधान भी वैसे ही चुने जाने है.. इस पर कोई भी अविश्वास प्रस्ताव नहीं लाया जाएगा.. इसमें कई अध्यादेश पेश होने वाले है… पीटीआई बर्खास्ती मामले में भी सीएम ने पूर्व सीएम हुड्डा से ही सवाल पूछते हुए कहा कि पीटीआई टीचर के लिए पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा सत्ता में रहते हुए प्राइवेट मेंबर बिल क्यों नहीं लाए।  इस मामले में उन्होंने पिछली यानि कांग्रेस सरकार को दोषी ठहराया है..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *