स्वास्थ्य विभाग अब शुरू करेगा सीरो सर्विलांस , जानिए क्या है सर्विस

स्वास्थ्य विभाग अब शुरू करेगा सीरो सर्विलांस , जानिए क्या है सर्विस

एंटी बॉडीज वाले लोगों की विभाग करेगा अब पहचान !  
सीरो किट के जरिए होगी जांच !
यमुनानगर (सुमित ओबरॉय) :-
 कोरोना की जंग में अब स्वास्थ्य विभाग उन लोगो की पहचान करेगा जिनमें एंटी बॉडीज बन चुकी है। इसके लिए सीरो सर्विलांस शुरू किया जाएगा। इसके तहत उन लोगों की पहचान की जाएगी। जो कोरोना से लड़ने में सक्षम है। कंटेनमेंट जोन के हिसाब से लोगों की जांच की जाएगी। सीरो किट के जरिए यह जांच होगी। किट से यह स्पॉट टेस्ट होगा। जिसकी रिपोर्ट भी तुरंत मिलेगी। इसके लिए चिकित्सकों व स्टाफ को प्रशिक्षण दिया जा चुका है।जल्द ही सीरो सर्विलेंस शुरू किया जाएगा। कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। ज्यादातर केस कोरोना संक्रमित  मरीजों के संपर्क से आ रहे हैं। हालांकि स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि अभी कोरोना कम्यूनिटी स्प्रैड नहीं हुआ है, लेकिन कई केस ऐसे भी सामने आए हैं। जो किसी दूसरे जिले में या राज्य में नहीं गए। इसके बावजूद भी वह कोरोना संक्रमित हो गए।

इसलिए ही अब सीरो सर्विलांस के तहत लोगों की जांच की जाएगी।  विभाग का मानना है कि कुछ लोगों में कोरोना के माइल्ड सिमटम आ चुके हैं। उनमें हर्ड इम्यूनिटी बन चुकी है। ऐसे लोगों को को कोरोना से कोई खतरा नहीं सीरो सर्विलांस के तहत सर्वे होगा। जिसमें देखा जाएगा कि कितने लोगों में माइल्ड सिमटम आ चुके हैं और उनमें हर्ड इम्यूनिटी बन चुकी है। जरूरी नहीं कि सभी में यह हर्ड इम्यूनिटी बनी हो। जिन लोगों में एंटी बॉडीज बन चुकी होगी। उनकी एंटी बॉडीज अन्य मरीजों के काम आ सकेगी।यदि किसी मे कोरोना के माइल्ड सिमटम आए होेंगे, लेकिन उनके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होने की वजह से उन्हें कोई दिक्कत नहीं आई। ऐसे ही यदि 70 प्रतिशत लोगों में हर्ड इम्यूनिटी बन जाएगी, तो फिर खतरा कम हो जाएगा। सीएमओ विजय दहिया ने बताया कि जल्द ही हमें सीरो सर्विलांस किट मिल जाएगी। इसके लिए प्रशिक्षण भी हो चुका है। अब हम कंटेनमेंट जोन के हिसाब से सभी लोगों की जांच करेगी। जिसके जरिए एंटी बॉडीज डिटेक्ट की जाएगी। इससे पता लग जाएगा कि कितने लोग कोरोना से लड़ने में सक्षम हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *