सरबजीत कौर की हत्या के मामले में हरविंदर के साले ने दी थी किलर को एक लाख की रकम, दाे गिरफ्तार

सरबजीत कौर की हत्या के मामले में हरविंदर के साले ने दी थी किलर को एक लाख की रकम, दाे गिरफ्तार


21 दिसंबर को पुलिस पहले ही बठिंडा के नजदीक दियालपुरा मिर्जा से 40 वर्षीय जसविंदर सिंह उर्फ छिंदा बाबा को गिरफ्तार कर चुकी है।

मोहाली,(संदीप सैनी) खरड़ सदर थाना पुलिस ने पांच दिसंबर को 30 वर्षीय अध्यापिका सरबजीत कौर की हत्या के मामले में मुख्य आरोपित हरविंदर सिंह संधू के साले व कांट्रेक्ट किलर तक रकम पहुंचाने वाले आरोपिताें को गिरफ्तार किया है, जिनकी पहचान मनदीप सिंह निवासी गांव भगतगढ़ बरनाला व दर्शन सिंह निवासी गांव दियालपुरा मिर्जा बठिंडा के रूप में हुई है।दोनों आरोपितों को पुलिस ने मंगलवार को कोर्ट में पेश किया जहां से उन्हें चार दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।
इससे पहले 21 दिसंबर को पुलिस बठिंडा के दियालपुरा मिर्जा से 40 वर्षीय जसविंदर सिंह उर्फ छिंदा बाबा को गिरफ्तार कर चुकी है। छिंदा ने सन्नी एन्क्लेव खरड़ के ग्लोबल स्कूल के बाहर अपना एक्टिवा पार्क करने जा रही अध्यापिका की तीन गोलियां मारकर हत्या कर दी थी। सरबजीत यहां फ्रेंच व पंजाबी की टीचर थी।

मनदीप का करीबी दोस्त है दर्शन
एसएचओ अमनदीप सिंह ने बताया कि मनदीप सिंह ही था जिसने हरविंदर सिंह की तरफ से सरबजीत को मारने के लिए सुपारी किलर को एक लाख रुपये दिए थे। उसने पूछताछ में बताया कि दर्शन मनदीप का करीबी दोस्त है जोकि कंबाइन ऑपरेटर है। दर्शन ने बिचौलिए की भूमिका निभाई थी। उसने हरविंदर और मनदीप का जसविंदर से संपर्क कराया और उनकी मदद ली थी।

तीन माह पहले की थी मर्डर की प्लानिंग
यह प्लानिंग तीन महीने पहले की गई थी। हरविंदर सरबजीत कौर के साथ शादी नहीं कराना चाहता था पर वह जोर दे रही थी। हरविंदर इस रिश्ते से परेशान था और वह इसे खत्म करना चाहता था। जसविंदर दियालपुरा मिर्जा में एक डेरे का ड्राइवर था और हरविंदर भी डेरे पर आता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *