शिमला में मौसम ने करवट बदल दी है सुबह धूप खिली बादल छाए रहे और शाम को हुई ओलावृष्टि के कारण तापमान में गिरावट आ गई।

शिमला में मौसम ने करवट बदल दी है सुबह धूप खिली बादल छाए रहे और शाम को हुई ओलावृष्टि के कारण तापमान में गिरावट आ गई।

राजधानी शिमला में वीरवार को एक बार फिर से मौसम ने करवट बदली है। वीरवार सुबह की शुरुआत खिली धूप के साथ हुई। दोपहर बाद आसमान में बादल छाए और शाम तीन बजे तक ओलावृष्टि शुरू हो गई। ओलावृष्टि के कारण राजधानी में तापमान में काफी गिरावट दर्ज की गई। ओलावृष्टि इतनी तेज थी कि कुछ ही देर में चारों ओर सफेदी छा गई।

शिमला के ऊपरी क्षेत्रों में हल्की बर्फबारी भी दर्ज की गई है। कुफरी, नारकंडा और खड़ापत्थर में हल्की बर्फबारी हुई। राजधानी शिमला में दोपहर बाद हुई ओलावृष्टि के दौरान बाहरी राज्यों से घूमने आए पर्यटकों ने खूब आनंद लिया।

नहीं थमेगा मौसम का कहर, बढ़ेगी ठंड

राजधानी शिमला में मौसम का कहर थमने वाला नहीं है। मौसम विभाग ने पुर्वानुमान लगाया है कि पश्चिमी हवाओं के सक्रिय होने के कारण जिला में अधिकांश थानों पर भारी बारिश के साथ बर्फबारी हो सकती है। इससे तापमान में गिरावट आएगी। जिले में इसका असर सात जनवरी तक रहेगा। विभाग ने ऊपरी शिमला में रहने वाले लोगों को बर्फबारी की संभावनाओं के चलते एहतियात बरतने की सलाह दी है।

पर्यटकों ने किए कार्यक्रम रद

राजधानी शिमला में शाम के समय हुई ओलावृष्टि के दौरान पर्यटकों ने रिज और मालरोड पर खूब मस्ती की। बर्फबारी की संभावनाओं के चलते शिमला पहुंचे पर्यटकों ने वापसी के कार्यक्रम रद कर दिए। जबकि शिमला के मौसम को देखते हुए ऑनलाइन र्बुंकग में भी इजाफा हुआ है। पर्यटन कारोबार से जुड़े लोगों के चेहरों पर फिर मुस्कान छा गई है।

बागवानों को भी राहत

शिमला में बदले मौसम के स्वरूप के बाद बागवानों की खुशी का भी ठिकाना नहीं रहा। जैसे ही ऊपरी क्षेत्रों में बर्फ के फाहे गिरने शुरू हुए वैसे ही बागवानों के चेहरे खिल गए। बागवानों को उम्मीद है कि अब अच्छी बर्फबारी होगी। हालांकि दिसंबर में भी ऊपरी शिमला में अच्छी बर्फबारी हो चुकी है।
गौरतलब है कि हिमाचल में वर्ष 1997 के बाद ऐसी ठंड पड़ है। वीरवार को शिमला में ओलावृष्टि हुई तो कुफरी व नारकंडा समेत प्रदेश के ऊंचे इलाकों में बर्फबारी हुई। हालांकि शिमला में सुबह धूप खिली थी लेकिन दोपहर बाद बूंदाबांदी शुरु होने के साथ-साथ शाम होते ही ओलावृष्टिï होने लगी। हिमाचल के कई इलाकों में तापमान जमाव बिंदू से नीचे पहुंच गया है। मौसम विभाग ने तीन व चार जनवरी को प्रदेश के ऊंचे क्षेत्रों में बर्फबारी और नीचे के इलाकों में बारिश की संभावना जतायी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *