पैसे बचाने के लिए लोगों ने रखी ये मांग जानिए हजारों लोगों को कैसे मिलेगा लाभ !

पैसे बचाने के लिए लोगों ने रखी ये मांग जानिए हजारों लोगों को कैसे मिलेगा लाभ !

केएमपी एक्सप्रेस-वे के साथ बनने वाले नए रेल कॉरिडोर को दिल्ली रोहतक रेल मार्ग से जोड़ने की मांग
आसौदा गांव के लोगों ने मांग को लेकर एसडीएम को सौंपा ज्ञापन
दोनों रेलवे मार्गो के आपस में जुड़ने से रोजाना हजारों लोगों को होगा फायदा
रोहतक की ओर से पलवल जाने वाले लोगों का बचेगा समय और पैसा
फरीदाबाद (प्रवीण शर्मा) :-
 केएमपी यानी कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेस-वे के साथ-साथ नया रेल कॉरिडोर बनने जा रहा है। इस रेलवे कॉरिडोर को दिल्ली-रोहतक रेल मार्ग से जोड़ने की मांग भी अब उठने लगी है। बहादुरगढ़ के आसौदा गांव के लोगों ने आज केएमपी रेल कॉरिडोर को दिल्ली-रोहतक रेल मार्ग में जोड़ने के लिए एसडीएम को एक ज्ञापन सौंपा लोगों का कहना है कि केएमपी रेल मार्ग के दिल्ली रोहतक रेल मार्ग में जुड़ने से रोहतक की ओर से पलवल जाने वाले यात्रियों को आसानी होगी और उनका काफी समय भी बचेगा । अब रोहतक से पलवल की तरफ जाने के लिए यात्रियों को पहले दिल्ली जाना पड़ता है और बाद में वह पलवल पहुंचते हैं।            

अगर बहादुरगढ़ के आसौदा रेलवे स्टेशन की कनेक्टिविटी नए बनने जा रहे एमपी रेल कॉरिडोर से हो जाती है, तो रोजाना हजारों यात्रियों के समय और पैसे की बचत होगी।  हम आपको बता दें की केएमपी के साथ साथ बनेने वाले 130 किलोमीटर के रेल कॉरिडोर के लिए जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। यह कॉरिडोर बनाने के लिए झज्जर जिले के 19 गांवो की जमीन अधिग्रहित की जाएगी। यह रेलवेलाइन बादली उपमंडल के 10 और बहादुरगढ़ उपमंडल के 9 गांवो से गुजरेगी। इस ब्रॉड गेज डबल रेलवे लाईन पर पलवल से सोनीपत के बीच 14 नए स्टेशन भी बनाये जाएंगे। साथ ही रेलवे लाईन पर करीब साढ़े 5 हजार करोड़ का खर्च आएगा। हरियाणा रेल इंफ्रास्ट्रैक्चर डवलैपमेंट कार्पोरेशन ने रेलवे लाईन से सम्बंधित काम के लिए स्टाफ और काम के लिए अलग से बजट भी देना शुरू कर दिया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *