पेट की भूख के आगे सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां, खाना बांटने वालों की इंतजार में लगी भीड़

पेट की भूख के आगे सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां, खाना बांटने वालों की इंतजार में लगी भीड़

फरीदाबाद(प्रवीण शर्मा)। लॉक डाउन का दूसरा चरण शुरू हो जाने के बाद अब फरीदाबाद के फतेहपुर चंदीला गांव में रहने वाले प्रवासी मजदूरों के लिए भुखमरी की नौबत आ गई है जिसके चलते पेट की भूख के आगे सोशल डिस्टेंसिंग दम तोड़ती नजर आ रही है। लोग हाथों में खाली बर्तन उठाएं खाना बांटने वालों की इंतजार में सोशल डिस्टेंसिंग भी भूल चुके हैं। इसके दौरान वहां कोई पुलिसकर्मी नजर नहीं आया। लोगों ने बताया की पुलिस रोज खाना बांटने आती है और उसी के इंतजार में वह लोग अपने बच्चों के साथ खाने की इंतजार में हाथों में बर्तन लेकर खड़े हैं। महिलाओं का कहना था कि उन्हें कहीं से भी राशन नहीं मिल पा रहा है वही उनका कहना था। आधार कार्ड पर राशन देने की बात तो कही जा रही है, लेकिन कहीं से भी राशन उन्हें नहीं मिल पा रहा है। प्रवासी मजदूरों का कहना था की लॉक डाउन के चलते वह यहां फस गए हैं और उनके पास करने को कोई काम भी नहीं बचा है, यदि सरकार पहले बता देती तो वह अपने घर चले जाते और जहां भूखे मरने की नौबत ना आती।

Published By: Pooja Saini

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *