परिवहन विभाग के बाबू को पान खाकर सड़क पर थूकना महंगा, जुर्माने के साथ झेलनी पड़ी जलालत

परिवहन विभाग के बाबू को पान खाकर सड़क पर थूकना महंगा, जुर्माने के साथ झेलनी पड़ी जलालत

महाराजगंज : (ब्यूरो)  कोरोना वायरस की महामारी के कारण उत्तर प्रदेश सरकार ने सार्वजनिक जगह पर थूकने को दंडनीय अपराध घोषित किया है. प्रदेश के महाराजगंज में परिवहन विभाग के एक बाबू को पान खाकर सड़क पर थूकना महंगा पड़ गया. रूटीन चेकिंग पर निकले उपजिलाधिकारी की नजर पड़ी, तो बाबू को सरेआम जलालत झेलनी पड़ी.

एसडीएम ने पहले तो उसे उनसे ही धुलवाया, फिर 1500 रुपये का जुर्माना भी लगा दिया. यह वाकया उत्तर प्रदेश के महराजगंज जिले के नौतनवा कस्बे का है. नौतनवा एसडीएम जसधीर सिंह गांधी चौक इलाके में रूटीन चेकिंग कर रहे थे, इतने में रोडवेज डिपो के एक बाबू बाइक से राह चलते सड़क पर थूक दिए. एसडीएम की नजर पड़ गई और उन्होंने बाबू को रोक लिया.इसके बाद एसडीएम ने उन्हें नियम का पाठ पढ़ाते हुए कड़ी फटकार लगाई और रोडवेज बाबू से ही उक्त स्थान को अच्छी तरह से साफ कराया. इतना ही नहीं,

एसडीएम ने 1500 रुपये का जुर्माना भी लगाया. एसडीएम ने सड़क पर थूकने वाले बाबू को भविष्य में दोबारा ऐसा नहीं करने की चेतावनी भी दी.इस संबंध में जिलाधिकारी डॉक्टर उज्ज्वल कुमार ने कहा कि लॉकडाउन के नियमों का जो भी उल्लंघन करेगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. चाहे वह कोई सरकारी कर्मचारी ही क्यों न हो. जिलाधिकारी ने कहा कि शासन के आदेश पर सभी एसडीएम को मास्क लगाकर न निकलने वालों और रोड पर थूकने वालों के खिलाफ जुर्माना लगाने के निर्देश दिए गए हैं.

उन्होंने कहा कि इन नियमों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाए. बता दें कि प्रदेश सरकार ने बगैर मास्क के निकलने और सार्वजनिक स्थान पर थूकने पर जुर्माना लगाने के निर्देश दिए हैं,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *