परमाणु और पृथ्वी वैज्ञानिक का दावा- 21 जून को सूर्यग्रहण पर खत्म हो जाएगा कोरोना

परमाणु और पृथ्वी वैज्ञानिक का दावा- 21 जून को सूर्यग्रहण पर खत्म हो जाएगा कोरोना

भारत 9 डेस्क। पूरी दुनिया कोरोना वायरस की महामारी से जूझ रहे है, वहीं अब लोग कोरोना वायरस को सूर्य ग्रहण से जोड़कर भी देखने लगे हैं। आपको बतादें चेन्नई के एक वैज्ञानिक ने तो कोरोना वायरस और सूर्यग्रहण के बीच कनेक्शन का दावा किया है। परमाणु और पृथ्वी वैज्ञानिक डॉ केएल सुंदर कृष्ण का कहना है कि सूर्यग्रहण के बाद उत्सर्जित विखंडन ऊर्जा यानी के कारण पहले न्यूट्रॉन के उत्परिवर्तित कण के संपर्क में आने के बाद कोरोना वायरस टूट गया है। उनका दावा है कि कोरोना वायरस हमारी जिंदगी को नष्ट करने आया है।

उनका दावा है कि 21 जून का सूर्य ग्रहण इस वायरस का प्राकृतिक उपचार हो सकता है। उन्होंने कहा कि हमें इससे घबराने की जरूरत नहीं है। यह सौरमंडल में होने वाली प्राकृतिक हलचल है। कृष्ण ने कहा कि सूर्य ग्रहण एक प्राकृतिक उपचार भी हो सकता है जो हमें इस महामारी से छुटकारा दिलाएगा। सूर्य की किरणें और सूर्य ग्रहण इस वायरस का प्राकृतिक इलाज है। आगामी सूर्य ग्रहण वायरस को निष्क्रिय कर सकता है। वैज्ञानिक डॉ केएल सुंदर ने यह भी कहा कि उत्परिवर्तन प्रक्रिया संभवतः चीन में पहले देखी गई थी जिसके कारण वायरस चीन में पहले फैल गया और सूर्य ग्रहण ने चीजों को बदल दिया होगा हालांकि इसका कोई सबूत नहीं मिला। यह एक प्रयोग या जानबूझकर किए गए प्रयास का प्रकोप हो सकता है।

Published By: Pooja Saini

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *