पंजाब सरकार ने नया मोटर व्हीकल एक्ट 2019 विगत दिनों से लागू कर दिया है,जुर्माना राशि पुराने चालानों पर भी लागू

पंजाब सरकार ने नया मोटर व्हीकल एक्ट 2019 विगत दिनों से लागू कर दिया है,जुर्माना राशि पुराने चालानों पर भी लागू

पंजाब सरकार ने नया मोटर व्हीकल एक्ट 2019 विगत दिनों से लागू कर दिया है। पंजाब में नए मोटर व्हीकल एक्ट के तहत बढ़ाई गई जुर्माना राशि पुराने चालानों पर भी लागू करने से लाेगाें में हाहाकार मच गया है। बठिंडा के आरटीए द्वारा पुराने चालानों पर नई दरें वसूलने से जहां लोगों के होश उड़ गए हैं वहीं लोगों ने इसका विरोध करना भी शुरू कर दिया है। राज्य में संशोधित मोटर व्हीक्ल एक्ट लागू हाेने पर पुराने चालान वालाें की परेशानी कई गुणा बढ़ गई है। कारण यह कि तीन महीने पुराने चालान वालाें से भी नई दराें के हिसाब से जुर्माना वसूला जा रहा है। बठिंडा व मानसा जिले में 19 दिसंबर से पहले के करीब 15 हजार चालान पेंडिंग हैं। ऐसे में चालान की पुरानी दराें के हिसाब से सरकार काे 75 लाख रुपए मिलने थे अाैर अब नये एक्ट के बाद 3 कराेड़ के करीब राजस्व मिलेगा। ये पेंडेंसी इसलिए नहीं बढ़ी कि लोग चालान भुगतने नहीं पहुंचे बल्कि इसलिए इतनी ज्यादा है क्योंकि कई जगह आरटीए के सिस्टम काम नहीं कर रहे थे, कई जगह पुलिस ने भी आरटीए को चालान पहुंचाने में देरी की थी। लोगों द्वारा भी वयस्तता के कारण समय पर जुर्माना राशि ना भरना, इसका एक कारण है। लेकिन अब परेशानी ये है कि ये सभी पुराने चालानों का भुगतान नए कानून के तहत कई गुना ज्यादा भुगतना पड़ेगा।

19 दिसंबर से पहले चालान पेंडेंसी में पंजाब में बठिंडा जिला तीसरे स्थान पर

आरटीए ऑफिस बठिंडा में चालान भरने पहुंचे लोग।

बढ़े हुए जुर्माने के साथ जिले में कटे 310 चालान

बठिंडा जिले में 19 दिसंबर के बाद ट्रैफिक पुलिस ने नए नियमों के तहत पिछले पांच दिनों में अलग अलग श्रेणियों में 310 चालान काटे गए हैं। जिनमें बिना लाइसेंस के 16, बिना हेल्मेट के 7 तथा बिना आरसी के 7 चालान शामिल हैं। हालांकि इस दौरान कुछ रसूखदार लोग ट्रैफिक पुलिस से उलझते नजर आए, ज्यादातर लोगों को बढ़े हुए जुर्माने की जानकारी नहीं थी। इसी वजह से कुछ लोग पुलिस से बहस करते नजर आए, लेकिन उनकी एक नहीं सुनी गई। अधिकारियों के मुताबिक जिले में जितने भी चालान काटे गए हैं उनका भुगतान चालक को बढ़े हुए जुर्माने के साथ करना होगा।

लोगों को नई दरों के हिसाब से ही भरना होगा जुर्माना

भारी भरकम जुर्माने से लाेगाें में नाराजगी बाेले-नई दरों से वसूली सरासर गलत

नये एक्ट मुताबिक लगाए भारी भरकम जुर्माने से आम जनता में काफी नाराजगी है। लाेगाें का कहना है कि पहले के चालान पर नई दराें से जुर्माना वसूली सरासर गलत है। नोटिफिकेशन जारी होने की जानकारी मिलते ही सोमवार को लोग चालान भुगतने पहुंचे तो उनसे नए नियमों के तहत जुर्माना देने को कहा गया। इसके बाद बहुत सारे लोग बिना जुर्माना भुगते ही लौट गए। उनके पास उतने पैसे थे ही नहीं। कई लोगों की अधिकारियों व स्टाफ से नोकझोंक भी हुई। जिक्रयोग है कि नए माेटर व्हीकल एक्ट में कई नए नियम हैं। एसडीएम अपने-अपने हलकों में सभी प्रकार के वाहनों की चेकिंग कर सकते हैं।

केस-1. पहले पता होता तो परेशानी ना होती

बिना ड्राइविंग लाइसेंस का चालान भरने आए अमरजीत सिंह वासी भागू रोड़ ने कहा कि किसी कारण वो समय पर जुर्माना राशि जमा नहीं कर पाया। पुराने एक्ट में जहां 2000 रुपए जुर्माना था अब उसे 5 हजार रुपए जुर्माना भरना पड़ रहा है। यदि पहले पता हाेता कि पुराने चालान पर भी नई जुर्माना राशि वसूली जाएगी ताे पहले ही जुर्माना भर देते।

2. समय ना मिलने कारण नहीं भर पाए जुर्माना, अब दोगुना भरना पड़ रहा

प्रताप नगर निवासी गुरसेवक सिंह ने कहा कि उसका बीना आरसी का चालान कटा था लेकिन घरेलू कारणों की वजह से समय पर जुर्माना नहीं भर पाया। अब यहां आकर पता चला कि 2000 की जगह 5000 हजार रुपए देने पड़ेगें। जेब में इतने पैसे नहीं थे इसलिए बिना भरे लौट रहा हैं। ये सरकार की धक्केशाही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *