देश में 9 मिनट दिवाली जैसा माहौल, मोदी की अपील पर लोगों ने जलाए दीये और मोमबत्तियां

देश में 9 मिनट दिवाली जैसा माहौल, मोदी की अपील पर लोगों ने जलाए दीये और मोमबत्तियां

नई दिल्ली(भारतभूषण शर्मा): कोरोनावायरस के खिलाफ एकजुटता का संदेश देने के लिए देशवासियों ने रविवार रात 9 बजे से 9 मिनट तक घर की लाइट बंद रखीं। दीये, मोमबत्ती, टॉर्च या मोबाइल फोन की फ्लैशलाइट जलाकर रोशनी की। 9 मिनट तक नजारा दीपावली जैसा था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को राष्ट्र के नाम संदेश में यह अपील की थी। शनिवार को उन्होंने ट्विटर पर अटल बिहारी वाजपेयी की कविता ‘आओ फिर से दीया जलाएं’ शेयर की। इसके जरिए देशवासियों को रविवार रात 9 बजे दीया-मोमबत्ती जलाने का वादा याद दिलाया। रविवार रात 9 बजे लोगों ने प्रधानमंत्री की अपील को साकार कर दिखाया और कोरोना वॉरियर्स को पूरा समर्थन दिया।

पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि ‘शुभं करोति कल्याणमारोग्यं धनसंपदा । शत्रु बुद्धि विनाशाय दीपज्योतिर्नमोऽस्तुते ॥’ इसका मंत्र का मतलब है – हे दीपक आप शुभ करने वाले हो, हमारा कल्याण करें , आरोग्य प्रदान करके, धन-संपदा दें। शत्रुओं की बुद्धि का नाश करें। मैं आपकी ज्योति को नमन करते हुए, आपकी स्तुति करता हूं।

9 मिनट देश में दीवाली जैसा माहौल

मोदी की इस अपील के बाद रविवार रात 9 बजे, 9 मिनट तक पूरे देश में लोगों ने दीया, मोमबत्ती और मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाई। कई जगहोें पर दीयोें के साथ पटाखे भी फोड़े गए। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह,लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला समेत कई मंत्रियों और नेताओं ने मोदी की अपील पर कोरोना वॉरियर्स को सपोर्ट किया।

मोदी ने की थी अपील
कोरोना संकट पर मोदी ने शुक्रवार को तीसरी बार देशवासियों को संबोधित किया था। इस दौरान उन्होंने 5 अप्रैल को कोरोना संकट के अंधकार को चुनौती देने लिए लाइट बंद करके दिया जलाने की अपील की थी। उन्होंने कहा था, ‘‘हमें प्रकाश की ताकत का परिचय कराना है। रविवार को 130 करोड़ देशवासियों की महाशक्ति का जागरण करना है। घर की सभी लाइटें बंद कर, दरवाजे पर या बालकनी में, खड़े रहकर, 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं। ताकि अपने घरों में मौजूद कोई भी कोरोना के खिलाफ लड़ाई में खुद को अकेला महसूस न करे। प्रकाश के इस आयोजन के दौरान सोशल डेस्टेंसिंग की लक्ष्मण रेखा का भी ध्यान रखें। कोरोना संकट को हराने के लिए प्रकाश के तेज को चारों ओर फैलाना है। दुनिया में ऐसा कुछ नहीं है, जो हम ताकत से हासिल न कर पाएं।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *