चाय पीने वाले नहीं, काम करने वाले कोच चाहिए : खेल मंत्री संदीप सिंह

चाय पीने वाले नहीं, काम करने वाले कोच चाहिए : खेल मंत्री संदीप सिंह

ऐसे में आगामी समय में इन कोच व खिलाड़ियों की कभी भी औचक निरीक्षण के साथ जांच हो सकती है कि वास्तव में ये कोच व खिलाड़ी मैदान में आ भी रहे हैं या कागजों में खेल अभ्यास हो रहा है।

हिसार,(भारत9)। हमें चाय पीने वाले कोच नहीं बल्कि काम करने वाले कोच चाहिए। जो कोच स्टेडियम में चाय पीने आते हैं वे सुधर जाएं और खिलाड़ियों की खेल प्रतिभा को तराशने वाली सोच के साथ फील्ड में मेहनत करें। यह बात प्रदेश के खेल और युवा कार्यक्रम मंत्री संदीप ¨सह ने कॉसमॉस पब्लिक स्कूल की स्पो‌र्ट्स अकेडमी के शुभारंभ के अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि खिलाड़ियों व लोगों से बातचीत में कही। कार्यक्रम में नई उभरती खेल प्रतिभाओं से लेकर इंटरनेशनल खिलाड़ी तक मौजूद थे। प्रदेश में अपने तीखे तेवर से चर्चाओं में रहे खेल मंत्री संदीप ¨सह के हिसार में भी तेवर सख्त दिखे।

वे भले ही एक कार्यक्रम में शिरकत करने आए हों लेकिन उस दौरान उन्होंने जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी (डीएसओ) सत¨वदर गिल से हिसार की खिलाड़ियों व कोच की रिपोर्ट ली। उन्होंने सभी कोच की लिस्ट सहित खिलाड़ियों का डाटा लिया। ऐसे में आगामी समय में इन कोच व खिलाड़ियों की कभी भी औचक निरीक्षण के साथ जांच हो सकती है कि वास्तव में ये कोच व खिलाड़ी मैदान में आ भी रहे हैं या कागजों में खेल अभ्यास हो रहा है। खेल नर्सरियों में मिले फर्जीवाड़े के बाद खेलमंत्री द्वारा विभिन्न खेलों के खिलाड़ियों व कोच का डाटा जुटाने का कार्य जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *