कोरोना के कहर में मजदूरों की मदद ले लिए आगे आये सुलेहड़ा के युवा

कोरोना के कहर में मजदूरों की मदद ले लिए आगे आये सुलेहड़ा के युवा

* कोरोना के कहर में मजदूरों की मदद ले लिए आगे आये सुलेहड़ा के युवा

* प्रवासी मजदूरों को वितीय सहायता दिलाने के लिए किया पंजीकरण

* कोरोना के प्रति युवाओं ने दिया जागरूकता संदेश और बांटे मास्क, सेनेटाइजर

नरवाना (गुलशन चावला): इस समय पूरे देश में कोरोना को लेकर सरकार और प्रशासन मिलकर इससे बचने के लिये ऐड़ी चोटी का जोर लगा रहे वहीँ इसी कड़ी में जिले के गाँव सुलेहड़ा के युवाओँ ने दूसरे राज्यों से आये प्रवासी मजदूरों की मदद को हाथ आगे बढ़ाये। सुलेहड़ा के कंप्यूटर शिक्षक के रूप में कार्यरत सुरेश नैन और उनकी टीम ने गांव के आसपास आये ईंट भट्ठे पर कार्य कर रहे मजदूरों को कोरोना के प्रति जागरूकता का संदेश देते हुए हरियाणा सरकार द्वारा असंगठित मजदूरों को महीने के 4500 रु आर्थिक सहायता हेतु पंजीकरण किया ।

टीम के युवा सुरेश नैन ने बताया कोरोना के चलते इस समय मजदूरों के कार्य रुक गए है ऐसे में उनको रोजी रोटी के संकट से बचाने के लिए सरकार उन्हें 4500 रु प्रति महीने की वितीय सहायता दे रही है। उन्होंने बताया जागरूकता के अभाव के कारण इन मजदूरों तक इस स्कीम का लाभ नही पहुँच पाता इसलिए उनकी टीम ने आसपास के प्रवासी मजदूरों का पता लगाते हुए भट्टे पर जाकर स्कीम की जानकारी देते हुए मजदूरों का पंजीकरण किया ताकि उनको समय पर लाभ मिल सके और आने वाले समय मे उनको रोजी रोटी का संकट न हो।

नैन ने बताया उनकी टीम इस कार्य को लगातार तब तक करती रहेगी जब तक आसपास के सभी मजदूरों पंजीकरण नही हो जाता। उनके साथ गाँव के युवा संदीप, अशोक नैन और शमशेर जांगड़ा शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *